Move to Jagran APP

18 हजार में फ्लाइट का टिकट, इसके बाद सरकारी गाड़ी भेज बुलवाया- और करा दिया 100 फीसद मतदान; लोग बोले- DM हो तो ऐसा

DM Lalitpur News जिलाधिकारी के निर्देश पर जनपद में निष्पक्ष व शान्तिपूर्ण ढंग से शत-प्रतिशत मतदान सम्पन्न कराने के लिये लम्बे समय से कवायद की जा रही थी। इसके साथ ही विभिन्न जागरूकता कार्यक्रम के माध्यम से भी ग्रामीणों को मतदान का महत्व बताकर प्रेरित किया जा रहा था। ग्राम सौलदा में 357 मतदाता हैं। इनमें से एक मतदाता शेर सिंह बंगलुरु में काम करता है।

By Jagran News Edited By: Mohammed Ammar Mon, 20 May 2024 08:01 PM (IST)
18 हजार में फ्लाइट का टिकट, इसके बाद सरकारी गाड़ी भेज बुलवाया- और करा दिया 100 फीसद मतदान; लोग बोले- DM हो तो ऐसा
18 हजार में फ्लाइट का टिकट, इसके बाद सरकारी गाड़ी भेज बुलवाया

जागरण संवाददाता, ललितपुर : जिलाधिकारी अक्षय त्रिपाठी की मेहनत और शत-प्रतिशत मतदान का संकल्प एक बार फिर रंग लाया। हर बार की तरह ललितपुर जनपद झाँसी-ललितपुर संसदीय क्षेत्र में सबसे अधिक मतदान करने में कामयाब रहा। इस बार तो 3 गाँवों में इतिहास ही रच गया।

ब्लॉक मडावरा के ग्राम सौलदा, बुदनी नाराहट और ब्लॉक बिरधा के ग्राम बम्हौरी नांगल में शत-प्रतिशत वोट पड़े। दिलचस्प बात यह है कि इन गाँव के एक-एक मतदाता को सरकारी खर्च पर बेंगलुरु और दिल्ली से बुलाया गया था। इससे हर पंजीकृत मतदाता का वोट ईवीएम में लॉक होने का रिकॉर्ड बन गया।

चुनाव से पहले डीएम ने चलाया था जागरूकता अभियान

जिलाधिकारी के निर्देश पर जनपद में निष्पक्ष व शान्तिपूर्ण ढंग से शत-प्रतिशत मतदान सम्पन्न कराने के लिये लम्बे समय से कवायद की जा रही थी। इसके साथ ही विभिन्न जागरूकता कार्यक्रम के माध्यम से भी ग्रामीणों को मतदान का महत्व बताकर प्रेरित किया जा रहा था।

ग्राम सौलदा में 357 मतदाता हैं। इनमें से एक मतदाता शेर सिंह बेंगलुरु में काम करता है। सभी मतदाता गाँव में ही मौजूद थे और शत-प्रतिशत मतदान का संकल्प कर चुके थे, लेकिन शेर सिंह के गाँव में न होने से उनका यह संकल्प टूटता दिख रहा था।

बीएलओ के माध्यम से इकठ्ठे किए 18 हजार

इसे जिलाधिकारी ने चुनौती के रूप में लिया और ब्लॉक स्तरीय मतदान कर्मियों की टीम बीएलओ आदि को आपस में 18 हजार रुपये एकत्र कर शेर सिंह को बेंगलुरु से फ्लाइट से भोपाल तक बुलवाया। वहाँ से सरकारी गाड़ भेजकर गाँव लाया गया। सोमवार को अपराह्न 1 बजे तक सभी 357 मत पड़ चुके थे। वहीं, ब्लॉक बिरधा के ग्राम बम्हौरी नांगल में कुल 441 मत हैं।

इनमें से जयदीप दिल्ली स्थित गृह मन्त्रालय में अडिशनल प्राइवेट सेक्रेटरी के पद पर कार्यरत हैं। दिल्ली में भी चुनावी प्रक्रिया चल रही है। इस कारण जयदीप का 20 मई को चुनाव के सम्बन्ध में महत्वपूर्ण प्रशिक्षण था। ऐसे में उनका वोट डालने गाँव आना असम्भव दिख रहा था।

इसकी जानकारी मिलने पर जिलाधिकारी अक्षय त्रिपाठी ने गृह मंत्रालय के उच्चाधिकारियों से वार्ता कर जयदीप का प्रशिक्षण किसी अन्य तिथि में कराने का अनुरोध किया, साथ ही शत-प्रतिशत मतदान कराने की मंशा भी बतायी।

इस पर गृह मंत्रालय के अफसर मान गये और जयदीप को वोट डालने गाँव जाने की अनुमति दे दी। इस पर गत दिवस जयदीप गाँव आ गये और सोमवार को लोकतन्त्र के इस महापर्व में अपने वोट की आहुति दी। इससे इस गाँव में सभी 441 मत डल गए। इसी प्रकार ब्लॉक मड़ावरा के ग्राम बुदनी नाराहट के सभी 215 मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग कर रिकॉर्ड बनाया।

मतदाता लौटते तो अन्य गाँवों में भी होता शत-प्रतिशत मतदान

जनपद में बेरोजगारी के चलते हजारों ग्रामीण फसल कटायी के बाद रोजी-रोटी की तलाश में बड़े शहरों की ओर पलायन कर गये हैं। यदि यह ग्रामीण गाँव वापस लौटते तो अन्य गाँवों में भी शत-प्रतिशत मतदान हो सकता था।

पिछले चुनावों में भी टॉप पर रहा था ललितपुर जनपद

झाँसी-ललितपुर संसदीय क्षेत्र में ललितपुर जिले की दो विधानसभा ललितपुर एवं महरौनी भी शामिल हैं। हर बार इन दोनों जिलों में लोकसभा क्षेत्र की अन्य विधानसभा क्षेत्रों के मुकाबले सबसे अधिक मतदान होता रहा है। ललितपुर जनपद में वर्ष 2014 में जहाँ 68.36 प्रतिशत मतदान हुआ था, वहीं वर्ष 2019 में 67.58 प्रतिशत मतदाताओं ने मतदान किया था।