मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

तालबेहट(ललितपुर) : तालबेहट तहसील में कार्यरत 1 लेखपाल के विरूद्ध एनसीआर दर्ज होने पर लेखपाल संघ बिफर गया है। लेखपाल संघ की तालबेहट इकाई ने तालबेहट के उप-जिलाधिकारी आजाद भगत सिंह को ज्ञापन सौंपकर जाँच की माँग की है।

लेखपाल संघ द्वारा एसडीएम को सौंपे गये ज्ञापन में बताया गया कि तालबेहट तहसील क्षेत्र में कार्यरत लेखपाल कपिल तिवारी के परिजनों का आपसी विवाद हो गया था, जिसमें विरोधी पक्ष द्वारा दर्ज करायी गई एनसीआर में उसे भी नामजद कर दिया गया। जबकि विवाद की घटना के दौरान लेखपाल कपिल तिवारी साप्ताहिक बैठक में तहसील सभागार में मौजूद थे। पारिवारिक विवाद से उन्हे कोई लेना-देना नहीं था। उसके बाबजूद भी तालबेहट पुलिस द्वारा मामले की बगैर जाँच व एसडीएम की अनुमति लिये बगैर ही लेखपाल के विरूद्ध प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है। लेखपाल संघ ने मामले की जाँच कराने व प्राथमिकी से लेखपाल का नाम हटवाने की माँग की है। न्याय न मिलने पर आन्दोलन की चेतावनी भी दी है। ज्ञापन देने वालों में संघ के जिला मंत्री देवशरण उपाध्याय, तालबेहट इकाई के अध्यक्ष श्यामबाबू, मंत्री रमेशचन्द्र वर्मा, सदर लेखपाल हरीराम प्रजापति, लेखपाल दिलीप श्रीवास्तव आदि शामिल रहे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप