ललितपुर ब्यूरो :

नगरपालिका अध्यक्ष रजनी घनश्याम साहू की अध्यक्षता एवं उप नगर आयुक्त/अधिशासी अधिकारी अवनीन्द्र कुमार की मौजूदगी में शनिवार को बोर्ड बैठक का आयोजन किया गया। इस दौरान शहर में सड़क, नाली समेत अन्य निर्माण संबंधी प्रस्तावों पर सहमति की मुहर लगी। वहीं ट्रचिंग ग्राउण्ड पर कचरा लेवलिंग के लिये जेसीबी मशीन खरीदने और जुगपुरा में बिजली समस्या के निदान के लिये सर्वे कराने का फैसला लिया गया। वहीं धार्मिक स्थल मंदिर, मस्जिद, गुरुद्वारा एवं चर्च के स्वकर निर्धारण बिल वापस लेने का निर्णय लिया गया। पुराना नगर भवन को ध्वस्त कर नई बिल्डिग बनाने का प्रस्ताव भी पारित किया गया।

नगर पालिका बोर्ड बैठक में शौचालयों की साफ-सफाई को लेकर प्रस्तुत किये गये प्रस्ताव पर लम्बी बहस चली। फैसला लिया गया कि शहर के मूत्रालयों की साफ-सफाई के लिये जेटिग मशीन खरीदी जायेगी। वहीं पालिका के ट्रचिंग ग्राउण्ड को समतल करने के लिये एक जेसीबी मशीन खरीने का भी प्रस्ताव पारित किया गया। बस स्टैण्ड पर ठेका की धनराशि में कटौती करने का निर्णय लिया गया। जुगपुरा में बिजली की समस्या से निजात दिलाने के लिये तय किया गया कि क्षेत्र का सर्वे कराया जायेगा। इसके अलावा पुराना नगर भवन की बिल्डिग को ध्वस्त कर नई बिल्डिग बनाने का प्रस्ताव पारित हुआ। बैठक में शहर की सड़क, नाली निर्माण एवं शौचालय निर्माण से सम्बंधित प्रस्ताव चर्चा के दौरान निरस्त कर दिये गये। शेष प्रस्ताव सर्व सम्मति से स्वीकृत किये गये।

परियोजना प्रबन्धक निर्माण इकाई उत्तर प्रदेश जल निगम डोंडाघाट द्वारा नगर क्षेत्र में गिरने वाले गन्दे पानी के शुद्धिकरण के सर्वेक्षण कार्य हेतु 5 लाख रुपये की धनराशि की माँग की गयी थी, जिसमें चर्चा हेतु बोर्ड बैठक में सहायक अभियन्ता जल निगम उपस्थित हुये। सभासदों द्वारा जानकारी प्राप्त करनी चाही कि उक्त डीपीआर बनाये जाने के पश्चात कार्य हेतु धनराशि कहाँ एवं किस मद से प्राप्त होगी और केवल डीपीआर बनाये जाने से आम जन को क्या लाभ होगा, सहायक अभियन्ता स्थिति स्पष्ट नहीं कर सके, तो बोर्ड द्वारा उक्त प्रस्ताव आगामी बोर्ड बैठक में प्रस्तुत करने हेतु एवं अधिशाषी अभियन्ता जल निगम को बैठक में उपस्थित होने हेतु निर्देश दिये। पार्षद अनुराग जैन शैलू द्वारा स्वकर निर्धारण सर्वे उपरान्त गृहकर के अत्यधिक धनराशि के बिल, मन्दिर, मस्जिद, गुरूद्वारा, चर्च आदि पर बिना सुनवाई किये उपरान्त जारी किये जाने पर आपत्ति व्यक्त की गयी। उदाहरण के तौर पर महावीरपुरा में स्थित बजरंग बली मन्दिर का बिल बोर्ड के समक्ष प्रस्तुत किया एवं जिस पर कर निर्धारण अधिकारी अनिल कुमार अरूण व कर अधीक्षक हेमन्त सिंह को स्वकर निर्धारण बिल मन्दिर, मस्जिद, गुरूद्वारा, चर्च आदि के बढ़े हुये बिल वापिसी तथा उक्त धार्मिक स्थानों के बिल नियमानुसार जाँच उपरान्त माफ किये जाने के निर्देश दिये गये। इस दौरान पार्षद रामवती रजक, मुकेश रजक, रामबाबू यादव, कृष्ण कुमार पंथ, पूजा ग्वाला, रोहित राठौर, रजनी रजक, उदय प्रताप यादव, अफजुल रहमान, नाजिया रजा मुस्तफा खाँ, मंजू लवली शर्मा, जमुना बाई प्रजापति, महेन्द्र कुमार सिंघई, हरीओम कुशवाहा, मोदी पंकज जैन, आलोक कुमार जैन मयूर, जगभान कुशवाहा, शिवानी पाठक, गीता यादव, बाकर अली भोलू, जहीर अली रानू, आशा श्रीवास्तव, अनुराग चौबे, अनुराग जैन, सहायक अभियन्ता सिंचाई खण्ड वीके साहू, सहायक अभियन्ता जल निगम दिनेश कुमार, अधिशाषी अभियन्ता जल संस्थान सुरेशचन्द्र, कार्यालय अधीक्षक रमाकान्त तिवारी, कर निर्धारण अधिकारी अनिल कुमार अरूण, कर अधीक्षक हेमन्त सिंह, सफाई एवं खाद्य निरीक्षक संदीप कुमार, वरिष्ठ लिपिक दीनदयाल सोनी, सुधीर कुमार रावत नजूल लिपिक, मुख्य स्टोर लिपिक महेन्द्र सिंह यादव, रमेश सेन, प्रहलाद सहरिया, रूपेश कुमार साहू, दीपक नामदेव, किरन करौसिया मौजूद रहे।

::

बॉक्स-

::

धनाढ्यों के खातों में भेजी प्रधानमन्त्री आवास की धनराशि

बोर्ड बैठक के दौरान पार्षद उदय प्रताप पटेल द्वारा लिखित रूप से अवगत कराया कि मुहल्ला जुगपुरा में प्रधानमन्त्री आवास योजना के तहत नगर क्षेत्र स्थित वॉ‌र्ड्स में आवास बनवाये जाने हेतु सरकार द्वारा ऋण उपलब्ध कराया जा रहा है। वॉर्ड 8 जुगपुरा में प्रधानमन्त्री आवास योजना के तहत धनाढ्य लोगों को पात्र कर दिया गया है एवं उनके खाते में धनराशि भेज दी गयी है। इतना ही नहीं गरीबों को अपात्र कर दिया गया है, जिससे वॉर्ड में रहने वाले गरीब लोग योजना हेतु लाभान्वित नहीं हो पाये हैं। इस कार्य में डूडा के कर्मचारियों द्वारा मनमानी से कार्य किया जा रहा है। इस पर अधिशासी अधिकारी द्वारा आश्वासन दिया गया कि इस सम्बन्ध परियोजना अधिकारी जिला नगरीय विकास अभिकरण ललितपुर से पत्राचार करते हुये अवगत कराया जायेगा।

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran