ललितपुर ब्यूरो:

कोतवाली तालबेहट क्षेत्र के ग्राम खादी स्थित कॉलनि के पीछे सूखे नाले में मजरा गनेशपुरा निवासी दूधिए की पत्थर से सिर कुचलकर नृशस हत्या की गुत्थी पुलिस ने 24 घण्टे में सुलझाते हुए सनसनीखेज खुलासा किया है। महज 500 रुपये और मोबाइल लूटने के उद्देश्य से तीन लोगों ने दूधिए की हत्या कर दी थी। पुलिस ने हत्यारोपियों को गिरफ्तार कर उनके पास से लूट के रुपये और मोबाइल बरामद कर लिया है।

तालबेहट अन्तर्गत ग्राम खादी के मजरा गनेशपुरा निवासी प्रान सिंह यादव (48) पुत्र पूरन सिंह यादव की नृशस हत्या को गम्भीरता से लेते हुए पुलिस अधीक्षक ओपी सिंह ने अपर पुलिस अधीक्षक अवधेश कुमार विजेता के निर्देशन, क्षेत्राधिकारी तालबेहट विनोद सिंह के नेतृत्व में प्रभारी निरीक्षक तालबेहट सभाजीत मिश्र के साथ स्वॉट व सर्विलन्स टीम को खुलासे में लगाया था। पुलिस की टीमों ने बीती रात लगभग 11 बजे रेलवे स्टेशन तालबेहट मेन गेट के पास घेराबन्दी करके तीन हत्यारोपियों को गिरफ्तार करने में सफलता अर्जित कर ली। पकड़े गए आरोपियों के नाम गनेश कुशवाहा पुत्र बैजनाथ कुशवाहा निवासी मजरा खॉच ग्राम खादी थाना तालबेहट, पुष्पेन्द्र पुत्र पुस्सू अहिरवार पुत्र अमृत अहिरवार निवासी मोहल्ला चौबयाना कस्बा तालबेहट, लखन लाल उर्फ लक्खा श्रीवास पुत्र छन्दीलाल श्रीवास निवासी मोहल्ला तिवरयाना कस्बा तालबेहट है, हत्यारोपियों ने रुपये व मोबाइल लूटने के उद्देश्य से प्रान सिंह की हत्या का जुर्म स्वीकार कर लिया है। पुलिस टीम ने प्रान सिंह का सेमसंग मोबाइल फोन पुष्पेन्द्र के कब्जे से, गनेश से लूट के 300 रुपये और लखन लाल से 200 रुपया बरामद भी कर लिए, जिसके बाद कोतवाली तालबेहट में दर्ज हत्या के मुकदमे में लूट की धाराओं की भी वृद्धि कर ली गई है। पुलिस अधीक्षक ने इस सफलता के लिए पुलिस टीम को 10 हजार रुपये का इनाम घोषित किया है।

::

बाक्स में,

ऐसे हुआ था प्रान सिंह का 'कत्ल'

दूध बेचने का काम करने वाले प्रान सिंह को मौत की नींद सुलाने वाले 'हम प्याले' थे और घटना वाली रात लगभग 10 बजे गनेश और लक्खा काशीराम कॉलनि वाले क्षेत्र में स्थित चेकडेम की पुलिया पर शराब पी रहे थे। कुछ देर में पुष्पेन्द्र और प्रान सिंह भी वहाँ पहुंँच गए और चारों जाम से जाम टकराने लगे। शराब का नशा सिर पर चढ़ने पर गनेश, लक्खा और पुष्पेन्द्र ने प्रान सिंह से रुपये माँगे, लेकिन उसने इकार कर दिया, जिसको लेकर तीनों ने गाली - गलौज के साथ मारपीट प्रान सिंह के साथ मारपीट कर दी। इसके बाद भी जब तीनों लोग प्रान सिंह की जेब से रुपये निकालने में सफल नहीं हुए तो उनके इरादे और अधिक खतरनाक हो गए। आपस में राजीनामा करने के बाद तीनों प्रान सिंह को मुर्गा खिलाने के बहाने घटनास्थल पर ले गए और मारपीट कर जमीन पर गिरा दिया, फिर उसके सिर पर भारी पत्थर पटक दिया। पकड़े जाने के भय से उसी पत्थर को उठाकर ताबड़तोड़ प्रहार कर दिए और प्रान सिंह को मौत की नींद सुलाकर भाग गए।

::

बाक्स में,

पुलिस को 'गुमराह' करने को फाड़े कपड़े

नृशस हत्या करने के बाद पुलिस को गुमराह करने के उद्देश्य से हत्यारोपियों ने प्रान सिंह के कपड़े फाड़कर अ‌र्द्ध नगन् कर दिया था, ताकि पुलिस कत्ल को अवैध सम्बन्धों की परिणति मानकर उलझी रहे और उन पर किसी का सन्देह नहीं हो सके, लेकिन पुलिस की सक्रियता ने हत्यारोपियों की मंशा पर पानी फेर दिया।

::

बाक्स में,

ऐसे लगा 'सुराग'

घटना के बाद से ही पुलिस टीमों ने सक्रिय होकर वारदात की गहरायी से पड़ताल शुरू कर दी थी। इस दौरान मुखबिर से पता चला कि घटना वाली रात चेकडेम की पुलिया पर 'दारू - पार्टी' चल रही थी, जिसमें प्रान सिंह के साथ नामजद आरोपी भी मौजूद थे। इस महत्वपूर्ण सूचना के आधार पर तालबेहट कोतवाली प्रभारी निरीक्षक ने दारू पार्टी के एक सदस्य को पकड़कर पूछताछ की, लेकिन उसने आसानी से मुँह नहीं खोला, लेकिन कुछ ही समय बाद वह टूट गया और कत्ल की कहानी बया कर दी, जिसके बाद वारदात में शामिल अन्य आरोपियों को भी दबोच लिया गया।

::

बाक्स में,

यह है मामला

तालबेहट अन्तर्गत ग्राम खादी के मजरा गनेशपुरा निवासी प्रान सिंह यादव (48) पुत्र पूरन सिंह यादव की सोमवार रात नृशस हत्या कर दी गई थी। मंगलवार सुबह उसका शव काशीराम कॉलनि के पीछे सूखे नाले में पड़ा पाया गया था, सिर बुरी तरह से कुचला हुआ था, नजदीक ही मृतक की साइकिल व रक्तरजित कपड़े भी पड़े हुए थे। मौका - ए - वारदात के हालात नृशस हत्या की गवाही दे रहे थे। मृतक के पुत्र कृष्णपाल की तहरीर के आधार पर तालबेहट पुलिस ने अज्ञात हत्यारों के खिलाफ आइपीसी की धारा 302 के तहत मामला दर्ज कर तहकीकात शुरू की थी।

::

बाक्स में,

इस टीम को मिली सफलता

कोतवाली तालबेहट: प्रभारी निरीक्षक सभाजीत मिश्र, आरक्षी वीर सिंह, शत्रुन्जय प्रताप, बृजेश कुमार, स्वॉट टीम: सदस्य चन्द्रशेखर राजपूत, अवधेश कुमार, पर्वत सिंह, सर्विलन्स: रजनीश, प्रदीप कुमार एवं संजय सिंह राजपूत।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस