Move to Jagran APP

अब नहीं काटने पड़ेंगे चक्कर, मीटर रीडरों पर कसेगा शिकंजा; एप बताएगा बिजली खर्च का ब्योरा

बिजली खपत कम और बढ़े हुए बिल को लेकर उपभोक्ताओं को अब अधिकारियों के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे। अस्सिटेड एप के जरिए उनके मीटर की सही रीडिंग सीधे अधिशासी अभियंता के पोर्टल पर दिखेगी। इस एप से मीटर रीडरों की मनमानी पर भी शिकंजा कसेगा। वह घर बैठे किसी उपभोक्ता का बढ़ा हुआ या फिर कमीशनखोरी कर खर्च यूनिट से कम बिजली बिल नहीं बना सकते हैं।

By Dharmesh Kumar Shukla Edited By: Aysha Sheikh Wed, 22 May 2024 01:44 PM (IST)
अब नहीं काटने पड़ेंगे चक्कर, मीटर रीडरों पर कसेगा शिकंजा; एप बताएगा बिजली खर्च का ब्योरा

जागरण संवाददाता, लखीमपुर। बिजली खपत कम और बढ़े हुए बिल को लेकर उपभोक्ताओं को अब अधिकारियों के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे। अस्सिटेड एप के जरिए उनके मीटर की सही रीडिंग सीधे अधिशासी अभियंता के पोर्टल पर दिखेगी। इस एप से मीटर रीडरों की मनमानी पर भी शिकंजा कसेगा। वह घर बैठे किसी उपभोक्ता का बढ़ा हुआ या फिर कमीशनखोरी कर खर्च यूनिट से कम बिजली बिल नहीं बना सकते हैं।

मध्यांचल विद्युत वितरण निगम ने बिजली चोरी रोकने, आम उपभोक्ताओं की यह शिकायत कि उन्होंने कम बिजली खर्च की है और उनका बिजली बिल ज्यादा आ रहा है। किस उपभोक्ता के घर का केबिल कटा है और बाईपास कर बिजली खपत की जा रही है। इसके अलावा बिजली संबंधी अन्य समस्याओं को भी देखा जाएगा।

अधिकारियों के मुताबिक, मीटर रीडर जब भी उपभोक्ता के घर रीडिंग लेने जाएंगे, उनके साथ बिजली विभाग का एक कर्मचारी साथ रहेगा जो अपने मोबाइल में डाउनलोड एप को खोलकर संबंधित उपभोक्ता का कनेक्शन नंबर डालकर सर्च करेगा, जिसके बाद पूरा कालम सामने आ जाएगा।

कमियों को एप पर करना है फीड

बिजली कर्मचारी को जो भी कमियां नजर आएंगी, उसे एप पर फीड करना है, जो सीधे अधिशासी अभियंता के पोर्टल पर दिखने लगेगी। इसके अनुसार उपभोक्ताओं की समस्याओं को भी दूर किया जा सकेगा और बिजली सप्लाई भी बेहतर मिलेगी।

अधिशासी अभियंता शैलेंद्र सिंह ने बताया कि एप के जरिए मीटर रीडरों पर भी शिकंजा कसा जा सकेगा। मीटर रीडरों की शिकायत है कि वह घर-घर रीडिंग लेने नहीं जाते हैं। मनमाने तरीके से मीटर की यूनिट भर देते हैं। जिसकी वजह से आम उपभोक्ताओं और विभाग को काफी परेशानियों का सामना पड़ता था, लेकिन एप के माध्यम से उपभोक्ताओं को खर्च यूनिट का बिजली बिल मिलेगा।