लखीमपुर : ईद-उल-अजहा का त्योहार परंपरागत रूप से मनाया गया। इस मौके पर लोगों ने घरों पर ही इबादत की। ईदगाहों व अन्य मस्जिदों पर सन्नाटा पसरा दिखाई दिया। प्रतिबंधों के चलते त्योहार का उल्लास तो नहीं दिखाई दिया लेकिन, लोगों ने एक दूसरे को मुबारकबाद देकर त्योहार मनाया। मीनार मस्जिद के पेश इमाम हाफिज मौलाना अशफाक कादरी ने शुक्रवार को मस्जिद से एलान कराया था कि लोग प्रतिबंधों का पूरा पालन करें तथा अपने घरों में बैठकर इबादत करें।

खीरीटाउन : कस्बा खीरी व आसपास के ग्रामीण क्षेत्रों में ईदुल अजहा का त्योहार बड़ी अकीदत व एहतराम के साथ मनाया गया। मस्जिदों में पांच-पांच लोगों ने ईदुल अजहा की नमाज अदा की। अधिकांश लोगों ने घरों में ही नमाज अदा की।

पलियाकलां : क्षेत्र में ईद उल अजहा का त्योहार शांतिपूर्वक मनाया गया। लॉकडाउन के नियमों का पालन करते हुए लोगों ने घरों में नमाज अदा की। भीरा, गौरीफंटा, पड़रियातुला, मैलानी, निघासन, महेवागंज, मोहम्मदी समेत सभी क्षेत्रों में ईद उल अजहा का त्योहार शांतिपूर्वक मनाया गया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस