कुशीनगर: बुधवार को जिले में आग ने तबाही बरपाई और खेत से लेकर खलिहान तक बर्बादी हुई। 60 एकड़ से अधिक गेहूं की फसल राख हो गई। कहीं खेत में गेहूं की फसल धू-धू कर जली तो कहीं रिहायशी घर जलकर राख हो गए। तीन मवेशी भी झुलस गए। हजारों के सामान जलकर नष्ट हो गए। आग की लपटों को तेज पछुआ हवा का साथ मिला और तबाही का दायरा बढ़ता गया।

नेबुआ नौरंगिया थाने के गांव विजई छपरा में मंगलवार की रात ग्रामवासी सुरेंद्र कुशवाहा पशुओं को मच्छरों से बचाने के लिए धुंअहरा जलाए थे। इससे निकली चिगारी से उनकी झोपड़ी में आग लग गई। आग बगल के शिवनाथ कुशवाहा की झोपड़ी तक पहुंच गई और तीन पशु झुलस गए। सेवरही कार्यालय के अनुसार तुर्कपट्टी थाना क्षेत्र के घोड़ही देवी स्थान के समीप बुधवार की दोपहर अज्ञात कारण से लगी आग में करीब पांच दर्जन किसानों की तैयार गेहूं की फसल राख हो गई। अचानक सरेह में आग लगी और हवा के झोंके के साथ विकराल रूप धारण कर लिया। महज चालीस मिनट में ग्राम पगरा प्रसाद गिरी, पगरा पड़री, खुदरा अहिरौली व पकड़ी गोसाई तक पहुंची और गेहूं की फसल को चपेट में ले लिया। एसएचओ तेज जगन्नाथ भी मौके पर पहुंचे। लेखपाल मोहम्मद हुसैन ने रिपोर्ट तहसील प्रशासन को भेजी। तरयासुजान थाना क्षेत्र के बहादुरपुर पुलिस चौकी के गांव लतवा मुरलीधर में शाम चार बजे शलभ अपने गन्ने के खाली खेत में कबाड़ जला रहे थे कि बगल के शलभ, उमेश, राजेन्द्र, हृदया, अशोक व्यास, नागेंद्र, विनोद, धुवींद्र, दुखी, विश्वनाथ, शंकर की फसल जल कर राख हो गई। पटहेरवा थाना क्षेत्र के गांव परसौनी पांडेय पट्टी में शार्ट सर्किट से लगभग एक एकड़ गेहूं की फसल जलकर नष्ट हो गई। ग्रामीणों ने काफी प्रयास कर आग पर काबू पाया। फाजिलनगर विकास खंड के गांव सठियांव निवासी रमन सिंह का इस गांव में खेत है। बुधवार को दिन के एक बजे खेत के ऊपर से होकर गुजर रहे विद्युत तार में शार्ट सर्किट से आग लगी। ग्राम प्रधान चंद्रप्रकाश पाण्डेय ने कहा कि बार-बार शिकायत के बाद भी अधिकारी कार्रवाई करने से परहेज करते हैं।

---

फिर दिखी संसाधनों की लाचारी

- जिले में अलग-अलग हिस्सों में आग लगी तो एक बार फिर संसाधनों की कमी देखने को मिली। कहीं आग लगने के बाद फायर ब्रिगेड की टीम पहुंची तो कहीं पहुंच ही न सकी। इसको लेकर एक बार ग्रामीणों का आक्रोश भी देखने को मिला और विरोध में नारेबाजी करते दिखे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप