कुशीनगर : तुर्कपट्टी सूर्य मंदिर परिसर में पांच दिनों तक चला कुशीनगर महोत्सव रविवार की रात रंगारंग कार्यक्रमों के बीच संपन्न हुआ। भोजपुरी गायिका पूनम दूबे, अभिनेत्री अक्षरा सिंह का जादू दर्शकों के सिर चढ़कर बोला। उनके गाने और नृत्य पर लोग झूमते और नाचते रहे।

मथुरा के कलाकारों ने बरसाने की होली और रासलीला का मंचन कर मंत्रमुग्ध कर दिया। कार्यक्रम में हाथी नृत्य देख दर्शक रोमांचित हो उठे। गायिका दूबे ने सड़िया हम ना पहिनेब सुनाया तो लोग झूम उठे। निशा दूबे व दीपक दिलदार के भोजपुरी गानों पर युवा वर्ग झूम उठा। अभिनेत्री सिंह ने अपने गीतों से जहां लोगों का मनोरंजन किया वहीं नृत्य कर लोगों को नचाया भी। कार्यक्रम के अंत में पत्रकारिता के क्षेत्र में कार्य करने वाले अजीत अंजुम, दर्शन कुमार, पद्म श्री भरत भूषण, चित्रकार डॉ. सुनीता शर्मा, राकेश, भारत केसरी अर्जुन चौधरी, अक्षरा सिंह को आयोजक विनय राय ने अंग वस्त्र देकर सम्मानित किया।

-----

नारी शक्ति की अभिरुचि जगाने में सफल रहा अभियान : शिवपाल

फोटो 11 पीएडी 30 से लगाएं

तुर्कपट्टी, कुशीनगर : प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल यादव ने कहा कि ग्रामीण अंचल में महोत्सव आयोजित होने से क्षेत्रीय प्रतिभाओं को आगे आने का मौका मिलता है। स्थानीय संस्कृति का प्रचार होता है। महोत्सव ने नारी शक्ति को खेल और शिक्षा के प्रति अभिरुचि प्रदान की है।

वह यहां तुर्कपट्टी सूर्य मंदिर परिसर में पांच दिनों तक चले कुशीनगर महोत्सव के समापन अवसर पर बतौर मुख्य अतिथि आए थे।

विधायक गंगा सिंह कुशवाहा, अजीत अंजुम, राज्यमंत्री दर्जा प्राप्त विभ्राट चंद कौशिक, डा. पीके राय, ब्लाक प्रमुख गुड्डू राय, ग्राम प्रधान प्रियंका शाही, टुन्नू पांडेय, मुन्ना शाही आदि उपस्थित रहे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप