कुशीनगर: संसदीय कार्य, ग्राम्य विकास एवं समग्र विकास विभाग के राज्य मंत्री आनन्द स्वरूप शुक्ल ने सोमवार को विकास भवन सभागार में ग्रामीण आजीविका मिशन, प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण व मुख्यमंत्री आवास योजना के लाभार्थियों को स्वीकृत पत्र देने के साथ चाबी सौंपी।

अध्यक्षता करते हुए राज्यमंत्री ने कहा कि प्राथमिकता के आधार पर पात्रों को इसका लाभ मिलेगा। 2011 की जनगणना में छूटे परिवारों को नए आवंटित 20 हजार आवास में मुसहर/कुष्ठ रोगी/बाढ़ प्रभावितों को दिए जाएंगे। प्रधानमंत्री की प्रेरणा से राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना अंतर्गत 100 दिन का रोजगार भी दिया जा रहा है। ग्रामों में समूहों की स्थापना पर जोर देते हुए उन्होंने कहा कि प्रत्येक गांव में कम से कम तीन समूहों का होना आवश्यक है। पोषाहार का वितरण भी स्वयं सहायता समूहों के माध्यम से कराया जाएगा। सरकार द्वारा दिलाए जा रहे आवास में कोई व्यक्ति धनराशि की मांग करता है तो उसे जिला स्तरीय अधिकारियों को जरूरत बताएं, ताकि ऐसे लोगों के खिलाफ कार्रवाई हो सके। सरकार की उपलब्धियों को गिनाते हुए कहा कि इसका प्रचार-प्रसार व्यापक स्तर पर किया जाना चाहिए। इस दौरान लगभग दो दर्जन लाभार्थियों को स्वीकृत पत्र देने के साथ चाबी सौंपी गयी।

कार्यक्रम को भाजपा के जिलाध्यक्ष प्रेमचंद्र मिश्र, जिला विकास अधिकारी शेषनाथ चौहान ने संबोधित किया। पीडी संजय कुमार पांडेय, श्रम एवं रोजगार के उपायुक्त प्रेम प्रकाश त्रिपाठी मौजूद रहे।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस