कुशीनगर : ईवीएम के मुद्दे पर छिड़े विवादों के बीच मतगणता के दौरान सुरक्षा का चौक-चौबंद इंतजाम रहा। हार-जीत की प्रतिक्रिया में होने वाले विवादों को रोकने के लिए भी इस बार खास कदम उठाए गए थे। मतगणना स्थल के आस-पास समर्थक व कार्यकर्ताओं का हुजूम इकट्ठा नहीं होने दिया गया। सादे वेश में भी जगह-जगह पुलिसकर्मी तैनात रहे जिससे कि अफवाह फैलाने वालों के मंसूबे पर पानी फेरा जा सके। आयोग की मंशा के अनुरुप स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं शांतिपूर्वक ढंग से मतगणना संपन्न कराने के लिए पुख्ता इंतजाम किए गए थे। मतगणना से ठीक पूर्व बने माहौल को देखते हुए पुलिस पहले से ही चौकन्ना थी। ताकि कहीं से कोई कसर न रह जाए। मतगणना स्थल उदित नारायण इंटर कालेज से 200 मीटर की परिधि में एक साथ बड़ी संख्या में लोगों के इकट्ठा होने पर सख्ती से रोक रहा। सिर्फ अधिकृत व्यक्ति ही अंदर प्रवेश पा सके। राजनीतिक दलों के अभिकर्ताओं भी सघन जांच-पड़ताल के बाद ही अंदर प्रवेश पा सके। कालेज के मुख्य गेट से लेकर मेड रोक जलकल चौराहे तक सुरक्षा बलों का जमावड़ा रहा। जिससे कि असामान्य स्थिति कायम होने पर सुरक्षा बल तत्काल मौके पर पहुंच उसे संभाल सकें। उधर मतगणना स्थल पर केंद्रीय पुलिस बल, एसएसबी, पीएसी व पुलिस के जवान पूरी मुस्तैदी से डटे रहे। मीडिया गैलरी के अलावे अन्य जगहों पर आने-जाने के लिए मीडियाकर्मियों के भी मोबाइल व अन्य इलेक्ट्रानिक उपकरणों पर रोक थी। सुरक्षा की कमान पुलिस अधीक्षक राजीव नारायण मिश्र स्वयं संभाले हुए थे। देररात तक पुलिस जीत-हार की प्रतिक्रिया को लेकर सजग रही।

----

हंगामे के बाद और भी बढ़ा दी गई सुरक्षा

-मतगणना के लिए निर्धारित समय सुबह आठ बजे से कुछ घंटे पूर्व रात लगभग 12 बजे गठबंधन प्रत्याशी के समर्थकों ने स्ट्रांग रूम के बाहर हंगामा खड़ा कर दिया। समर्थक ईवीएम बदले जाने का आरोप लगाने लगे। सपा एमएलसी रामअवध यादव भी तत्काल मौके पर पहुंच गए। हालांकि जिला प्रशासन ने इसे बेबुनियाद बताया। यह देखते हुए रात में ही मतगणना स्थल पर सुरक्षा-व्यवस्था और भी बढ़ा दी गई।

----

कुशीनगर संसदीय सीट व देवरिया आंशिक के मतों की गिनती का कार्य निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न हो गया। इसे लेकर सुरक्षा के मुकम्मल इंतजाम किए गए थे। अफवाह को लेकर पुलिस चौकन्ना थी। जिससे कि ऐसा करने वालों के मंसूबे ध्वस्त किए जा सकें।

-राजीव नारायण मिश्र, एसपी

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran