कुशीनगर : सुरक्षित जीवन के लिये यातायात नियमों का पालन करना जरूरी है। घर से निकलने वाले प्रत्येक व्यक्ति को सोचना चाहिए कि परिवार वाले उनका इंतजार कर रहे हैं। यह बातें सोमवार को उपसंभागीय परिवहन विभाग के परिसर में तृतीय सड़क सुरक्षा सप्ताह के पहले दिन कार्यशाला को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि डीएम डॉ. अनिल कुमार सिंह ने कही। कहा कि थोड़ी सी लापरवाही जानलेवा साबित हो सकी है। सड़क सुरक्षा उपायों पर जोर देते हुए कहा कि कमियों को दूर करें, तो अभियान चलाकर लोगों को जागरूक भी करें। विशिष्ट अतिथि एसपी विनोद कुमार मिश्र ने कहा कि सुरक्षित रहने के लिए सीमित गति से वाहन चलाएं। एआरटीओ संदीप कुमार पंकज ने कार्यक्रम के उद्देश्य पर प्रकाश डालते हुए कहा कि सुरक्षित यात्रा के लिए सड़क के बाएं पटरी पर चलें। यातायात नियमों के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि वाहन चलाते समय मोबाइल का प्रयोग न करने की सलाह दी गई। सड़क पार करते समय दाहिने व बायीं तरफ अवश्य देखकर चलें। बाइक पर तीन सवारी बैठाकर न चलें। चार पहिया वाहन चलाते समय सीट बेल्ट का अवश्य प्रयोग करें। गीता इंटरनेशनल पब्लिक स्कूल के बच्चों ने भी यातायात नियम के अनुपालन पर जोर दिया। संचालन करते हुए राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के वरिष्ठ उपाध्यक्ष व लिपिक हर्षवर्धन राज ने कहा कि जीवन की सुरक्षा के लिए यातायात नियमों का पालन अवश्य किए जाने चाहिए। रोडवेज विभाग एआरएम बिदु प्रसाद, यात्री कर अधिकारी राजकुमार, टीएसआइ परमहंस यादव, अधिवक्ता धीरेंद्र मोहन सहाय, शाहिद अली, यूपी सिंह, गोपी गुप्ता, मनोज सिंह, बीके शुक्ल, मुख्तार बाबू, आरपी सिंह, हृदेश, सुनील श्रीवास्तव, मुन्ना पांडेय, राजू सिंह, राधेश्याम, रामसूरत, रजनीकांत, राजकुमार व आरआइ आरडी प्रसाद आदि मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस