कुशीनगर : पडरौना नगर स्थित उदित नारायण पीजी कालेज में गुरुवार को भारत-तिब्बत संबंध कल और आज विषयक संगोष्ठी का आयोजन किया गया। इसमें मुख्य अतिथि भारत-तिब्बत समन्वय केंद्र के समन्वयक जीग्मे त्सुल्ट्रीम ने साझा संस्कृति की जानकारी दी। उन्होंने तिब्बतियों पर चीन सरकार की ओर से किए गए अत्याचार का अनुभव भी साझा किया।

संगोष्ठी में मुख्य अतिथि ने छात्रों के प्रश्नों का जवाब भी दिया। कालेज की प्राचार्य डा. ममता मणि त्रिपाठी ने भारत, चीन एवं तिब्बत के संबंधों को ऐतिहासिक एवं वर्तमान परिवेश की स्थिति को स्पष्ट किया। अध्यक्षता कर रहे पूर्व विभागाध्यक्ष डा. सीबी सिंह ने भी भारत-तिब्बत एवं चीन के संबंधों पर अपने विचार व्यक्त किए। संचालन डा. संजय कुमार सिंह ने किया। रितिका साहा एवं पायल ने सरस्वती वंदना प्रस्तुत की। डा. जेपी जायसवाल, डा. मुकेश, चंदन, डा. विश्वंभर, डा. आशुतोष सिंह, शमशेर मल्ल, प्रमोद श्रीवास्तव, मनोज साहा, मिथिलेश आदि मौजूद रहे।

ऐतिहासिक होगी धरनीपट्टी की महापंचायत: रामानंद बौद्ध

सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी की ओर से 30 नवंबर को खड्डा ब्लाक के धरनीपट्टी में आयोजित महापंचायत ऐतिहासिक होगी। इस महापंचायत से कुशीनगर जिले की राजनीति की दिशा तय होगी।

यह बातें विधायक रामानंद बौद्ध ने कही। वह गुरुवार को कप्तानगंज कस्बा स्थित लोक निर्माण विभाग के डाक बंगला में जनपद स्तरीय कार्यकर्ता बैठक को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि महापंचायत में समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव मुख्य अतिथि होंगे। कार्यक्रम को ऐतिहासिक बनाने के लिए सुभासपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर की ओर से निर्देश दिया गया है। पूरे जनपद के हर गांव से लोगों को कार्यक्रम में लाने के लिए कार्यकर्ता जुट जाएं। महापंचायत से विधानसभा चुनाव 2022 का आगाज किया जाएगा। सभी कार्यकर्ता अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन करते हुए कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए जुट जाएं। अध्यक्षता जिला महासचिव ओंकार राजभर ने की व संचालन रामअवतार राजभर ने किया। अनिल राजभर, लालमन राजभर, विनोद दूबे, संतोष राजभर, नंदलाल राजभर, रघु राजभर, धीरज सिंह आदि मौजूद रहे।

Edited By: Jagran