कुशीनगर : जयपुर की माइक्रो क्रेडिट प्राइवेट कंपनी समूह बनाने के नाम पर 650 महिलाओं से जमा कराए गए 6.50 लाख रुपये लेकर फरार हो गई। प्रधान प्रतिनिधि के मकान में किराए पर खोले गए दफ्तर में ताला लटक रहा है, तो कर्मचारियों का कुछ पता नहीं। सूचना मिलते ही महिलाओं ने कंपनी के दफ्तर पहुंच प्रदर्शन किया।

विशुनपुरा थाना क्षेत्र के चटगवां ब्लाक मुख्यालय के पास एक प्रधान प्रतिनिधि के घर में खुली प्रयोजन माइक्रो क्रेडिट प्राइवेट कंपनी के फरार हो जाने की सूचना मिलते ही आक्रोशित खाता धारक महिलाएं कार्यालय पहुंची। ताला लटका होने पर सूचना पुष्ट होते ही हंगामा शुरू कर दिया। प्रदर्शन कर रही महिलाओं ने जमा रुपये दिलाने की मांग पर अड़ गईं। पडरौन मडूरही प्रधान प्रतिनिधि शिवशंकर कुशवाहा के मकान में जयपुर की माइक्रो क्रेडिट प्राइवेट कंपनी के तीन लोग संतोष, अंसुल, रतन अपने को कंपनी का अधिकारी बताकर कार्यालय खोला तथा एक दर्जन महिलाओं को को-आíडनेटर नियुक्त कर समूह का गठन किया। एक समूह में करीब 16 महिलाओं को सदस्य बनाया। करीब साढ़े छह सौ महिलाओं को अपनी कंपनी से जोड़कर प्रत्येक खाताधारक से 1014 रुपये जमा कराया। प्रधान प्रतिनिधि ने पुलिस को इस घटना की तहरीर दी। थानाध्यक्ष के निर्देश पर हल्का सिपाही कंपनी के दो कर्मचारियों को थाने ले गए। खाताधारकों ने पुलिस पर दो आरोपितों को थाने से छोड़ देने का आरोप लगाया। पुलिस महिलाओं को समझाने में जुटी है। थानाध्यक्ष आलोक सोनी ने कहा कि प्रधान प्रतिनिधि की सूचना पर मामले की जांच की जा रहीं है। आरोपितों को थाना में लाया गया था। कंपनी के अधिकारियों को बुलाने के आश्वासन पर छोड़ा गया है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस