कौशांबी : परिषदीय स्कूलों के बच्चों का शैक्षिक स्तर जानने के लिए एनसीईआरटी की ओर से लर्निग आउटकम परीक्षा का आयोजन होना है। इस परीक्षा को लेकर तैयारी पूरी हो गई है। बोर्ड परीक्षा की तर्ज पर इस परीक्षा को आयोजित कराने को लेकर बीएसए की ओर से योजना तैयार कर ली गई है। इसके लिए पूरे जिले को सेक्टर व जोनों में बांटकर पर्यावेक्षक व अन्य अधिकारी तैनात किए गए हैं।

प्रभारी जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी स्वराज भूषण त्रिपाठी ने बताया कि परीक्षा के लिए एक स्कूल के शिक्षकों को दूसरे स्कूल में परीक्षा कराने की जिम्मेदारी दी गई है। परीक्षा के दौरान नकल न हो सके। इसके लिए नियमित निगरानी की व्यवस्था की गई है। इसके लिए सभी ग्राम पंचायत सचिवों को न्याय पंचायत वार तैनात किया गया है। जो न्याय पंचायत में आने वाले हर स्कूल का निरीक्षण करेंगे। इसके अलावा एसडीएम चायल को नेवादा, मूरतगंज व चायल। एसडीएम सिराथू को कड़ा व सिराथू। एसडीएम मंझनपुर को सरसवां, कौशांबी व मंझनपुर ब्लाक के स्कूलों का जोनल अधिकारी बनाया गया है। यह साढ़े दस बजे से दोपहर 12:30 बजे तक स्कूलों में औचक निरीक्षण करते रहेंगे। बताया कि सभी खंड शिक्षाधिकारियों व एक जिला स्तरीय अधिकारियों को ब्लाकों की जिम्मेदारी दी गई है। कहा कि यह परीक्षा बोर्ड परीक्षा की तर्ज पर नकल विहीन कराई जाएगी।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप