जासं, कौशांबी : सैनी कोतवाली क्षेत्र के गुलामीपुर से मंझनपुर बताकर घर से निकले जिला पंचायत सदस्य के पति का पांचवें दिन भी कोई सुराग नहीं मिल पाया। पुलिस की दो टीमों ने फतेहपुर व कानपुर में अपना डेरा डाल दिया है। रेलवे स्टेशनों व होटलों को खंगालने के अलावा वहां लगे सीसीटीवी कैमरे में भी राजीव की खोजबीन की जा रही है। वहीं परिवार के लोगों ने पूर्व जिला पंचायत सदस्य पर अपहरण की आशंका जाहिर की है।

गुलामीपुर निवासी पूनम मौर्या जिला पंचायत सदस्य हैं। उनके पति राजीव मौर्य बुधवार की रात करीब नौ बजे मंझनपुर जाने की बात कहकर घर से निकले थे। कई घंटे बीतने के बाद भी वह नहीं लौटे। परिवार वालों ने मोबाइल पर काल किया तो स्विच आफ बताने लगा। दूसरे दिन मामले की शिकायत कोतवाली में की गई तो पुलिस ने कोखराज हाईवे पर एक होटल के समीप उनकी गाड़ी बरामद की। होटल में लगे सीसीटीवी कैमरे को देखा गया तो पता चला कि कानपुर की ओर जाने वाली जनरथ बस में राजीव चढ़े। उनके मोबाइल का आखिरी लोकेशन कनवार बार्डर पर मिला। इसके बाद कुछ पता नहीं चला। बहरहाल पांचवें दिन भी राजीव का सुराग नहीं लग सका है। जबकि पुलिस की कई टीमें मामले की जांच में जुटी हुई हैं। कानपुर व फतेहपुर जनपद के होटलों व रेलवे स्टेशनों पर भी पुलिस खाक छान रही है। स्थिति जस की तस बनी हुई है। वहीं पत्नी पूनम मौर्या ने पुलिस को यह भी बताया है कि उनका पूर्व जिला पंचायत सदस्य से विवाद चल रहा है। कई महीने पहले उनके पति को पीटा भी गया था। इस पर पुलिस पूर्व जिला पंचायत सदस्य से भी पूछताछ कर रही है।

-----------

डिप्टी सीएम से अभद्रता विपक्षी दलों की साजिश

पीड़ित जिला पंचायत सदस्य पूनम मौर्या से मिलने डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य शनिवार को उनके घर पहुंचे। उन्होंने ढांढस बंधाया कि पुलिस टीम अपना काम कर रही है। जल्द ही राजीव का पता लगा लिया जाएगा। वहीं परिवार वालों से मिलने के बाद जैसे ही डिप्टी सीएम घर से बाहर निकले। वहां मौजूद भीड़ में कुछ महिलाओं ने डिप्टी सीएम से अभद्र शब्दों का इस्तेमाल करना शुरू कर दिया। मामला उग्र होते देख सुरक्षा कर्मियों ने डिप्टी सीएम को भीड़ से किसी तरह बाहर निकाला। इसका वीडियो भी इंटरनेट मीडिया पर वायरल हुआ। मामला सुर्खियों में आने के बाद जिला पंचायत सदस्य पूनम मौर्या का भी रविवार को एक वीडियो वायरल हुआ। जिसमें उन्होंने डिप्टी सीएम से की गई अभद्रता के पीछे पूर्व जिला पंचायत सदस्य समेत विपक्षी दल के लोगों का हाथ होना बताया। उन्होंने यह भी कहा कि डिप्टी सीएम से बातचीत के बाद वह और उनका परिवार पूरी तरह आश्वस्त है। चुनावी माहौल बिगाड़ने के लिए कुछ अराजकतत्वों ने इस तरह की हरकत की है।

::::

क्त्रद्गश्चश्रह्मह्लद्गह्म ष्ठद्गह्लड्डद्बद्यह्य : 9999

Edited By: Jagran