कौशांबी : जिले के नोडल अफसर और अपर पुलिस महानिदेशक मानवाधिकार एमके बसाल मंगलवार को काफी सख्त दिखे। उन्होंने जेल, पुलिस लाइन और एसपी कार्यालय का निरीक्षण किया। पुलिस ऑफिस में क्राइम मीटिंग ली। इस दौरान चेतावनी दी कि अपराध का ग्राफ बढ़ा तो स्टेशन अफसर के साथ ही सर्किल अफसर को भी नहीं बख्शा जाएगा। निरीक्षण के दौरान पुलिस लाइन में अव्यवस्था मिलने पर आरआइ को फटकार भी लगाई।

एडीजी जिले के दो दिवसीय दौरे पर आए हैं। पहले दिन टेवा स्थित पुलिस लाइन पहुंचकर मेस, बैरक, फेमिली क्वार्टर और दफ्तर आदि का निरीक्षण किया। गंदगी, जर्जर भवन आदि जैसी अव्यवस्था मिलने पर आरआइ को कड़ी फटकार लगाई। कहा कि शासन से मिलने वाली धनराशि जिस मद के लिए अवमुक्त हो उसी में इस्तेमाल किया जाए। इसमें लापरवाही मिलने पर सीधे एफआइआर दर्ज करा दी जाएगी। इसके बाद उन्होंने एसपी कार्यालय स्थित दुर्गा भाभी सभागार में अपराध समीक्षा बैठक की। एक-एक सर्किल अफसर व कोतवाल से सवाल-जवाब किया। कहा कि फरार इनामियों को गिरफ्तार किया जाए। हिस्ट्रीशीटरों की गतिविधि पर नजर रखी जाए। छोटे अपराधियों को हल्के में नहीं लिया जाए। यही लोग बड़ी घटनाओं को अक्सर अंजाम दे देते हैं। अपराध का ग्राफ बढ़ने पर सर्किल अफसरों व कोतवालों को कार्रवाई की चेतावनी दी। फिर पुलिस कार्यालय के विभिन्न पटलों का निरीक्षण किया। इससे पहले एडीजी ने जेल का भी निरीक्षण किया। इस मौके पर एसपी प्रदीप गुप्ता, एएसपी अशोक कुमार, सीओ आदि मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस