कौशांबी : मंझनपुर कोतवाली क्षेत्र के स्थानीय कस्बे के 13 लोगों से लखनऊ की एक चिटफंड कंपनी ने 40 लाख रुपये ठग लिए और कर्मचारी फरार हो गए। ठगी के शिकार लोगों ने मामले की शिकायत पुलिस अधीक्षक अभिनंदन से की। एसपी के निर्देश पर मंझनपुर पुलिस ने अज्ञात कर्मचारियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

मंझनपुर के हजरतगंज मोहल्ला निवासी पितंबर लाल की पत्नी उर्मिला देवी, नरेश, मीना देवी, कुंवारे लाल, लंगड़ी देवी आदि ने दिए शिकायती पत्र में बताया कि कस्बे का ही एक युवक लखनऊ स्थित चिटफंड कंपनी का एजेंट है। उसने वर्ष 2015 व 16 में उनसे यह कहकर रुपये जमा कराए कि कंपनी तीन साल में धन दोगुना कर देती है। झांसे में आई उर्मिला ने 11 लाख, मीना ने दो लाख, गोलारी देवी ने डेढ़ लाख, कुंवारे लाल ने दो लाख, दुबेलाल ने एक लाख रुपये समेत दिनेश, संगीता, लंगड़ी देवी, जीतेलाल, बेबही देवी आदि ने कुल 40 लाख रुपये जमा कर दिए। तीन साल का समय बीतने के बाद जब सभी ने एजेंट से रुपये की मांग की तो उसने कंपनी के कर्मचारियों से बातचीत किया। आजकल की बात कहकर कर्मचारी टालमटोल करते रहे। इसके बाद माह भर पहले कर्मचारी कंपनी में ताला लगाकर फरार हो गए। जब इसकी जानकारी पीड़ितों को हुई तो उनके पैरों तले जमीन खिसक गई। दो दिन पहले मामले की शिकायत लोगों ने पुलिस अधिकारियों से की। इस संबंध में इंस्पेक्टर मनीष कुमार पांडेय का कहना है कि कंपनी के अज्ञात कर्मचारियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है। उनकी तलाश की जा रही है। जल्द ही धर-पकड़ कर मामले का पर्दाफाश किया जाएगा। कोर्ट के आदेश पर दुष्कर्म का केस दर्ज

जासं, कौशांबी : कौशांबी थाना क्षेत्र के एक गांव में खेत गई महिला के साथ युवक ने दुष्कर्म किया। विरोध करने पर उसकी पिटाई की। मामले में कोर्ट के आदेश पर नामजद आरोपित के खिलाफ पुलिस ने शुक्रवार को केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

कौशांबी इलाके की एक महिला ने बताया कि 10 अक्टूबर को वह खेत की तरफ गई थी। इस बीच गांव का ही एक युवक उसे मिल गया और मुंह दबाकर उसे झाड़ियों की ओर ले गया। युवक ने हत्या की धमकी देते हुए महिला के साथ दुष्कर्म किया। विरोध करने पर युवक ने उसकी पिटाई की। किसी तरह चंगुल से छूटी महिला ने शोर मचाया तो आसपास खेतों में रहे लोगों ने ललकारा। इस पर युवक धमकी देते हुए भाग निकला। घर पहुंची महिला ने आपबीती सुनाई। मामले की शिकायत थाने के अलावा उच्चाधिकारियों से की गई, लेकिन सुनवाई नहीं हुई। इस पर पीड़िता ने कोर्ट का सहारा लिया। अदालत के आदेश पर पुलिस ने नामजद आरोपित के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021