कौशांबी : जनपद में लगातार बढ़ रहे कोरोना संक्रमितों की संख्या में सोमवार को चार अन्य लोगों का भी इजाफा हो गया है। 1386 लोगों की आई जांच रिपोर्ट में सरसवां व कड़ा के दो-दो मरीज संक्रमित पाए गए हैं। सभी का इलाज शुरू कर दिया गया है।

मुख्य चिकित्साधिकारीडॉ. पीएन चतुर्वेदी ने बताया कि जनपद में बिना मास्क लगाए और फिजिकल डिस्टेंसिग का पालन न करने के चलते आए दिन कोविड-19 महामारी के मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है। इस महामारी की चपेट में आकर अब तक जनपद में 27 लोगों की मौत भी हो चुकी है। जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है, लेकिन स्थिति सुधरने का नाम नहीं ले रही हैं। दो दिन पहले 1386 लोगों का सैंपल जांच के लिए भेजा गया था। इनमें चार लोग संक्रमित पाए गए हैं। सभी को आइसोलेट करते हुए इलाज शुरू कर दिया गया है। साथ ही उनके संपर्क में आने वाले लोगों की भी तलाश जारी है। महिलाओं को मिली कानूनी जानकारी

कौशांबी : मंझनपुर के दीवर कोतारी स्थित पूर्व माध्यमिक विद्यालय परिसर में सोमवार को जिला विधिक सेवा प्राधिकरण ने जागरूकता गोष्ठी का आयोजन किया। इसमें बच्चों व महिलाओं को उनके अधिकारों को लेकर जागरूक किया गया।

रिसोर्स पर्सन ममता कश्यप व प्रधान सुरेश ने गांव के लोगों को बताया कि उनके साथ जो घटनाएं हो रही हैं। इसके लिए सभी को कोई न कोई कानूनी अधिकार प्राप्त है। वह इनका प्रयोग कर अपने हक के लिए लड़ सकती हैं। गोष्ठी में गांव के 60 महिलाओं ने हिस्सा लिया। उन्होंने कोरोना संक्रमण से निजात के साथ ही अन्य बातों को लेकर सवाल किया। विधिक सेवा प्रधिकरण के प्रभारी विजय कुमार तृतीय ने उनके सवालों का जवाब दिया। बताया कि यदि किसी के साथ हिसा होती है तो इसको लेकर वह न्यायालय आ सकता है। उन्होंने महिलाओं को भ्रूण हत्या व उससे संबंधित अपराध को लेकर जानकारी दी। साथ ही भ्रूण हत्या के आने वाले परिणाम को लेकर परिचित कराया। शशि त्रिपाठी ने महिलाओं को आत्मरक्षा से जुड़ी जानकारी दी। इस दौरान अधिवक्ता अजमेरी, वंदना व स्कूल के शिक्षक आदि लोग मौजूद रहे।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप