संवाद सहयोगी, कासगंज : अमांपुर विधानसभा क्षेत्र से दिवंगत विधायक देवेंद्र प्रताप की पत्नी को टिकिट दिए जाने की मांग को लेकर समर्थकों ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) कार्यालय पर धरना देकर प्रदर्शन किया। संगठन के पदाधिकारियों ने समर्थकों को समझा बुझाकर शांत किया है। उनकी बात नेतृत्व तक पहुंचाने का आश्वासन दिया है।

अमांपुर विधानसभा से पूर्व दिवंगत विधायक की पत्नी वीना देवी ने भाजपा से टिकिट के लिए आवेदन किया था। इंटरनेट मीडिया पर यह खबर आम हुई कि अमांपुर विधानसभा से भाजपाने पूर्व विधायक ओंमकार सिंह के पुत्र बृजेश वर्मा को अपना प्रत्याशी बनाया है। टीवी चैनल पर भी यह समाचार प्रसारित हुआ तो वीना देवी के समर्थक भड़क गए। सैंकड़ों की संख्या में महिला, पुरुष और युवाओं ने भाजपा कार्यालय पहुंचकर विरोध प्रदर्शन किया और धरने पर बैठ गए। समर्थक वीना देवी को पार्टी प्रत्याशी बनाए जाने की मांग कर रहे थे। यह जानकारी जब जिलाध्यक्ष केपी सिंह सोलंकी और अन्य संगठन के बड़े नेताओं को मिली तो वह वहां पहुंचे। समर्थकों को सुना। जिलाध्यक्ष केपी सिंह ने बताया कि वीना देवी के समर्थक टिकिट की मांग को लेकर जिला कार्यालय पहुंचे थे, उनकी बात को प्रदेश नेतृत्व तक पहुंचा दी है। टिकिट मिलने का निर्णय तो सगंठन ही करेगा। स्थानीय संगठन का काम जानकारी बड़े नेताओं को देना था, वह दे दी गई है। भगवान देवी, ओमवती, पवन देवी, प्रेमवती, कमलेश, राजू प्रधान, योगेश, विकास, गौतेंद्र, शैलेंद्र, पुष्पेंद्र, सुखेंद्र, नेमपाल, शाहनूर, खुशीराम, महेंद्र, आरिफ खान सहित सैंकड़ों की संख्या में समर्थक मौजूद थे। पूर्व विधायक के पुत्र सहित डेढ़ सौ पर मुकदमा

अमांपुर विधानसभा से दिवंगत विधायक की पत्नी वीना को टिकट दिए जाने की मांग को लेकर सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने भाजपा कार्यालय पर प्रदर्शन किया। इंस्पेक्टर क्राइम हाशिम ने दिवंगत विधायक देवेंद्र प्रताप के पुत्र कृष्णा राजपूत सहित डेढ़ सौ अज्ञात लोगों पर कोविड प्रबंधन अधिनियिम एवं धारा 144 के उल्लंघन का मुकदमा दर्ज कराया है। इंस्पेक्टर रमेश भारद्वाज ने बताया कि पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है। जांच की जा रही है।

Edited By: Jagran