कासगंज, संवाद सहयोगी: भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने राज्य किन्नर बोर्ड का गठन कर देने के बाद अब मंगलामुखियों में भाजपा के प्रति रुझान बढ़ गया है। जिले की एक किन्नर को आयोग का सदस्य बनाया गया है। अब जिले में मंगलामुखी तीनों विधानसभा सीटों पर भाजपा प्रत्याशियों के लिए प्रचार करेंगे। इसके लिए किन्नर समाज ने तैयारी कर ली हैं।

बीते वर्ष नवंबर में प्रदेश सरकार ने किन्नर विकास बोर्ड का गठन कर किन्नर सोनम चिश्ती को बोर्ड का उपाध्यक्ष नियुक्त किया था। बोर्ड में गोरखपुर की किरन बाबा, जौनपुर की काजल और कासगंज की पूजा को बोर्ड का सदस्य बनाया। किन्नर विकास बोर्ड के गठन से विधानसभा चुनाव को लेकर मंगलामुखी भी उत्साहित दिखाई दे रहे हैं। पहली बार है कि जब चुनाव प्रचार की कमान संभालने के लिए किन्नर समाज तैयारियां कर रहा है। बोर्ड की सदस्य एवं किन्नर समाज कासगंज व एटा की जिलाध्यक्ष पूजा किन्नर ने कहा है कि अब तक यह समाज अछूता रहा। किसी भी राजनीतिक दल ने इस समाज के न्याय की नहीं सोची। भारतीय जनता पार्टी ने प्रदेश के किन्नर समाज को सम्मान दिया है। प्रदेशभर के लगभग पांच लाख किन्नर समाज के लोगों को समाज की मुख्य धारा से जोड़ने का कार्य किया है। अब मंगलामुखी विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को जिताने का काम करेंगे। भाजपा के प्रत्याशियों के लिए गांव-गांव गली-गली वोट मांगेंगे। प्रदेश में योगी ही फिर मुख्यमंत्री बनेंगे। किन्नर समाज इसकी दुआ कर रहा है और चुनाव प्रचार भी करेगा। हम से जुड़े हैं हर समाज के लोग

एटा और कासगंज किन्नर समाज की जिलाध्यक्ष पूजा किन्नर ने बताया कि दोनों जिलों में 333 किन्नर हैं। इनमें कासगंज में 144 और एटा में 189 हैं। पूरा समाज भारतीय जनता पार्टी के साथ है। उनका कहना है कि हमारा समाज खुशियों में लोगों के यहां जाता है। हमसे हर वर्ग का व्यक्ति जुड़ा हुआ है। किन्नर समाज को सम्मान देने का लाभ भाजपा को मिलेगा।

Edited By: Jagran