सहावर, संवाद सूत्र : गांव एगमा में बंद घर के कमरे में एक व्यक्ति का शव मिला है। कई दिन पुराना शव सड़ने से उसकी पहचान नहीं हो सकी है। सोमवार को लखनऊ से वापस लौटे गृहस्वामी ने पुलिस को घर में शव होने की सूचना दी है। पुलिस ने शव अग्रिम कार्रवाई के लिए भेजा है।

एगमा निवासी विष्णु कश्यप 17 जून को परिवार के साथ ससुराल लखनऊ गया था। घर में ताला पड़ा था। सोमवार को सुबह जब वह लखनऊ से वापिस लौटा और घर का ताला खोलकर घुसा तो घर में दुर्गंध आ रही थी। कमरा खोलकर देखा तो पंखे पर सड़ा गला शव लटका था। यह देखकर उसके होश फाक्ता हो गए। सूचना पुलिस को दी गई। सहावर के थानाध्यक्ष राजकुमार सिंह मौके पर पहुंचे और शव को अग्रिम कार्रवाई के लिए भेजा है। शव सडा गला होने से उसकी पहचान नहीं हो सकी है। घटना को लेकर तरह-तरह की चर्चा हैं। लापता भाई के शव होने की आशंका

विष्णु कश्यप का एक भाई उमेश अंधे माता पिता के साथ दिल्ली में रहकर मजदूरी करता है। वह पिछले 20 दिनों से दिल्ली से लापता है। कयास लगाया जा रहा है कि यह शव उमेश का हो सकता है। घटना को लेकर ग्रामीणों को यह भी चर्चा है कि बंद घर में कोई अज्ञात व्यक्ति कैसे घुसकर फांसी लगा सकता है। विष्णु कश्यप लखनऊ गया हुआ था। सोमवार को वह वापस लौटा तो उसने घर में शव लटके होने की सूचना दी। शव अग्रिम कार्रवाई के लिए भेजा गया है। विष्णु के मुताबिक उसका भाई उमेश लगभग 20 दिन से दिल्ली से लापता है। वह इसी तरह की बनियान पहनता था। फिलहाल शव की पहचान नहीं हुई है। अभी कोई तहरीर नहीं मिली है। तहरीर मिलने पर मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।

- राज कुमार सिंह, थानाध्यक्ष सहावर

Edited By: Jagran