संवाद सूत्र सोरों (कासगंज) : सूकर क्षेत्र सोरों को तीर्थ स्थल घोषित कराने की मांग को लेकर बुधबार को तीसरे दिन भी आमरण अनशन जारी रहा। अनशनकारियों ने प्रदेश सरकार से सोरों को तीर्थ स्थल की सूची में शामिल किए जाने की मांग की।

आमरण अनशन पर बैठे भूपेश शर्मा ने कहा कि 60 घंटे बीतने के बाद भी शासन प्रशासन की तीर्थ के प्रति बेरुखी अत्यंत कष्टदायक है। लगातार आंदोलनकारियों की संख्या में वृद्धि हो रही है। आशुतोष वशिष्ठ ने अपनी उपस्थिति दर्ज कराते हुए आमरण अनशन पर बैठने की घोषणा की है। आज तीसरे दिन हमारे साथियों के स्वास्थ्य में लगातार गिरावट हो रही है। भूख हड़ताल पर बैठे कपिल पंडित ने बताया कि तीर्थ के प्रति बेरुखी भाजपा को आने वाले विधानसभा चुनावों में निश्चित रूप से भारी पड़ सकती है। इसके लिए हो रहे आमरण अनशन को भारी जनसमर्थन देखने को मिल रहा है। शासन प्रशासन की बेरुखी आम जनमानस में आक्रोश को जन्म दे रही है। इस दौरान सुरेंद्र महेश, पुरुषोत्तम तिवारी, सोमदत्त महेरे, अनुज, जितेंद्र कुमार, रिकू तिवारी, शरद कुमार तिवारी, शैलेंद्र, आकाश उपाध्याय, संजीव तिवारी, भोला महेरे, मोहित तिवारी, कमलनयन चौधरी, कमलकांत, संदीप पुजारी, राधा कृष्ण, मनोज, श्याम दीक्षित, जीतू तिवारी, अनुराग दीक्षित, राकेश तिवारी, रवि कांत गुप्ता, शिवम गुप्ता, पीयूष त्रिवेदी, रजत, रितेश कुमार, मोहित तिवारी, विकास मिश्रा, सतीश चंद्र बारिया, गोविद महेरे, शुभम शर्मा, रवि कुमार शर्मा, अनुपम मिश्रा मौजूद रहे।

------------------------------------

वायदा पूरा करें प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

सूकर क्षेत्र सोरों को तीर्थ स्थल घोषित किए जाने की मांग को लेकर चलाए जा रहे अभियान में भूमिका निभा रही संस्था राष्ट्रीय युवा शक्ति ने सोरों हरि की पौड़ी पर गंगा मां का पूजन किया। युवाओं ने सोरों को तीर्थ नगरी की सूची में शामिल कराए जाने की मांग को लेकर संघर्ष जारी रखने का संकल्प लिया। सामाजिक कार्यकर्ता प्रदीप रघुनंदन ने कहा कि लगभग डेढ़ वर्ष पूर्व एटा में आयोजित एक कार्यक्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आए थे। उन्होंने मंच से सूकर क्षेत्र सोरों को तीर्थ स्थलों की सूची में शामिल किए जाने की घोषणा की थी। जिसके आधार पर तत्कालीन जिलाधिकारी आरपी सिंह ने डीपीआर बनाकर शासन को भेजा था। लेकिन अब तक सोरों को तीर्थ स्थल घोषित नहीं किया गया है। उन्होंने कहा कि योगी आदित्यनाथ एटा में किए गए वायदे को पूरा करें। संतोष तिवारी, संजय तिवारी, राधेश्याम सुशील तिवारी, जय कुमार, अमर मिश्रा, कृपाल सिंह, जय सिंह, संतोष सिंह उपाध्याय, लोकेश मिश्रा एडवोकेट, अनिल शर्मा, राजीव कुमार, प्रभात तिवारी, भगवानदास मौर्य सिंह मौजूद रहे।

Edited By: Jagran