कासगज, संवाद सहयोगी: गुरुवार को कलक्ट्रेट सभाकक्ष में बैठक कर डीएम ने सचिवों द्वारा गांवों में कराए गए विकास कार्यो की समीक्षा की। कासगंज में संतोषजनक कार्य न होने और बैठक में अनुपस्थित रहने पर बीडीओ को निलंबित कर दिया। साथ ही गांवों में अधूरे कार्याे को पूरा कराने का निर्देश दिया है।

समीक्षा बैठक में डीएम सीपी सिंह ने सचिवों द्वारा ग्राम पंचायतों में बनवाए गए सामुदायिक शौचालय, पंचायत भवन व अन्य निर्माण कायरें की समीक्षा की। ग्राम सचिवों से प्रगति की जानकारी ली। कासगंज ब्लाक के ग्राम पंचायत अधिकारी बैठक में नहीं पहुंचे। उनके कार्य भी संतोषजनक नहीं थे। जिलाधिकारी ने खंड विकास अधिकारी जुगेंद्र सिंह को निलंबित करने के निर्देश दिए। डीएम ने सचिवों से कहा कि आपरेशन कायाकल्प, शौचालय एवं पंचायत भवन जो भी अधूरे पड़े हैं, उन्हें गुणवत्ता पूर्वक पूर्ण कराए। उन्होंने कहा कि लापरवाही किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं होगी। पंचायत भवन अधिकांश अधूरे पड़े हैं। इन्हें शीघ्रता से पूरा कराया जाए। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी तेज प्रताप मिश्र, परियोजना निदेशक डीआरडीए, जिला पंचायतराज अधिकारी, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी, समस्त खंड विकास अधिकारी, एडीओ पंचायत एवं सम्बन्धित अधिकारी, कर्मचारी मौजूद रहे। पंचायत भवन में मिली खामियां दो सचिवों को नोटिस

कासगंज: जिला पंचायत राज अधिकारी एके यादव ने ग्राम पंचायत सरसैठ और नगला कुंदन में पंचायत भवन का निरीक्षण किया। भवन निर्माण को लेकर बरती गईं अनियमितता एवं डिजायन बदलने और गुणवत्ता पूर्ण निर्माण न होने पर सचिव अनीता निगम एवं सत्येंद्र कुमार को नोटिस जारी किया गया है। उनको जल्द से जल्द जवाब देने को कहा गया है।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप