जागरण संवाददाता, कानपुर देहात: पुलिस लाइन मैदान पर शुक्रवार सुबह बलवा ड्रिल में पुलिस की चुस्ती परखी गई। एसपी ने खुद कमान संभाली। उन्होंने बलवाइयों को नियंत्रित करने के अभ्यास के दौरान आंसू गैस के गोले दागे। पुलिस कर्मियों ने निशाने पर ग्रेनेड फेंका। पथराव कर रहे दंगाइयों को लाठी चार्ज कर खदेड़ा गया। पुलिस कर्मियों ने फायरिग का अभ्यास भी किया।

पुलिस उपद्रवी या फिर बलवाइयों पर त्वरित नियंत्रण कर सके इसके लिए समय-समय पर मॉक ड्रिल अभ्यास होता है। शुक्रवार को एसपी अनुराग वत्स की मौजूदगी में पुलिस लाइन में बलवा ड्रिल हुई। थाना प्रभारियों व पुलिस कर्मियों की मॉक ड्रिल कराई गई। बलवाइयों/उपद्रवियों से निपटने के लिए पुलिस कर्मियों ने एंटी राइट गन, रबर बुलेट गन, ग्रेनेड का व्यवहारिक अभ्यास किया। लक्ष्य पर ग्रेनेड फेंकने पर पुलिस कर्मियों की हौसला आफजाई की गई। मॉक ड्रिल में एकत्र बलवाइयों को खदेड़ने के लिए पहले साउंड सिस्टम पर चेतावनी दी गई। इसके बाद भी बलवाई पीछे नहीं हटे तो आंसू गैस के गोले दागे गए। आंसू गैस के गोले फटने से गाढ़ा पीला धुआं फैल गया तो कुछ देर के लिए आंख से दिखना बंद होने पर बलवाई गिर गए। दौड़ कर पहुंचे कुछ पुलिस कर्मियों ने बलवाइयों को दबोच लिया। दूसरी ओर मौजूद उपद्रवियों ने पथराव किया तो बॉडी प्रोटेक्टर व हाथ में लाठी लेकर दौड़े पुलिस टीम ने उन्हें खदेड़ लिया। उपद्रवी भाग निकले। यहां एएसपी अनूप कुमार, सीओ अर्पित कपूर, आरके मिश्र, संदीप सिंह आदि रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस