जागरण संवाददाता, कानपुर देहात : शनिवार रात आठ बजते ही 35 घंटे का कोरोना क‌र्फ्यू शुरू हो गया। सड़कों पर सन्नाटा पसरा तो बीते वर्ष लॉकडाउन की याद लोगों को आ गई। पुलिस सायरन सुनकर गली में खड़े इक्के दुक्के लोग भी घरों के अंदर घुस गए। कोरोना क‌र्फ्यू सोमवार सुबह सात बजे तक प्रभावी रहेगा।

शनिवार रात आठ बजे से पहले ही लोग घरों के अंदर दुबक गए थे। बाजारों में सन्नाटा हो गया था तो पहले ही दुकानदार शटर गिराकर चलते बने। इसके बाद पुलिस कोरोना क‌र्फ्यू का पालन कराने को सड़क पर उतरी। आते जाते कुछ वाहन सवार मिले तो कोई इमरजेंसी कारण होने पर ही जाने दिया गया। बाकी लोगों को फटकार लगाकर वापस कर दिया गया। अकबरपुर चौराहे पर थाना प्रभारी तुलसीराम पांडेय पुलिस टीम संग तैनात रहे। यहां से एसबीआई रोड, रूरा रोड व जनकपुरी मैदान तक पैदल गश्त कर माइक से कोरोना बचाव का संदेश व घरों में ही रहने की बात कही गई। इसी तरह से पुखरायां, रसूलाबाद, शिवली, डेरापुर, सिकंदरा, सरवनखेड़ा, मंगलपुर, झींझक समेत बाकी क्षेत्रों में लोग घरों के अंदर रहे। पुलिस टीम ने हर जगह कोरोना क‌र्फ्यू पालन कराना सुनिश्चित किया और बाहर निकलने व बेवजह घूमने पर कार्रवाई की बात कही। डीएम जेपी सिंह ने बताया कि सभी लोग इसका पालन करें जिससे हम कोरोना संक्रमण को कुछ कम कर सके और यह जनता के सहयोग से ही सफल होगा। विश्वास है कि जिले के लोग अच्छे नागरिक होने का परिचय पहले की तरह देंगे और सही से पालन कर कोरोना से जंग में साथ देंगे।

बंद रहेंगी परचून की दुकानें

परचून की दुकान 35 घंटे के कोरोना क‌र्फ्यू के दौरान पूर्णतया बंद रहेंगी। अगर किसी ने नियम तोड़ा तो उस पर कार्रवाई होगी। वहीं दूध आवश्यक वस्तु में शामिल है इसलिए इस पर कोई प्रतिबंध नहीं रहेगा। इसके अलावा स्वास्थ्य सेवा से जुड़े लोग, सफाई कर्मचारी, पंचायत चुनाव में लगे लोग या इससे संबंधी काम किए जाएंगे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप