जागरण संवाददाता, कानपुर देहात: सरवनखेड़ा ब्लाक के शाहजहांपुर निनायां ग्राम पंचायत में वित्तीय वर्ष 2011-12 में राज्य वित्त का एक लाख आठ हजार रुपये का गबन हुआ था। दोषी पाते हुए तत्कालीन प्रधान से भू-राजस्व की भांति धन वसूली होगी। जिला लेखा परीक्षा अधिकारी की संस्तुति पर डीएम ने वसूली प्रपत्र जारी किया है।

ग्राम पंचायतों में वित्तीय अनियमितता की शिकायतें मिलती रहती हैं। कई मामलों में राज्य वित्त के धन दुरुपयोग के मामले सामने आने पर रिकवरी की कार्रवाई हुई है। अब सरवनखेड़ा ब्लाक के शाहजहांपुर निनायां ग्राम पंचायत में छह वर्ष पुराने धन दुरुपयोग प्रकरण में कार्रवाई तेज हुई है। विभागीय सूत्रों के अनुसार सरवनखेड़ा ब्लाक के शाहजहांपुर निनायां ग्राम पंचायत में तत्कालीन प्रधान अकील अहमद ने वित्तीय वर्ष 2011-12 में राज्य वित्त खाते से आनंद ब्रिक फील्ड के नाम दो चेक काटकर एक लाख आठ हजार रुपये निकाले। उक्त आहरित धनराशि के व्यय अभिलेख व कार्य का ब्योरा उपलब्ध न होने पर जिला लेखा परीक्षा अधिकारी ने आपत्ति की थी। इसके बाद प्रधान को नोटिस जारी की गई लेकिन उन्होंने जवाब नहीं दिया। इस पर कार्रवाई की संस्तुति डीएम से की गई थी। राज्य वित्त के धन गबन मामले में वसूली की कार्रवाई संचालित की गई है। डीएम ने शाहजहांपुर निनायां के तत्कालीन ग्राम प्रधान अकील अहमद से एक लाख आठ हजार रुपये रिकवरी की आरसी जारी की है। एसडीएम अकबरपुर आनंद कुमार ¨सह ने बताया कि तहसीलदार को वसूली सुनिश्चित करने को कहा गया है।

Posted By: Jagran