संवाद सहयोगी, भोगनीपुर : बरौर की मड़ैया गांव में जीतू का शव संदिग्ध हालात में फंदे पर लटका मिला। उसका पत्नी से विवाद हुआ था जिसके बाद पत्नी ने पति पर पीटने का आरोप लगा थाने में शिकायत कर दी थी। पुलिस ने समझौता करा दिया था जिसके बाद जीतू अपने घर व पत्नी मायके चली गई थी।

बरौर की मड़ैया गांव की विटान देवी ने बताया कि उसका 30 वर्षीय छोटा पुत्र जीतू अपनी पत्नी संतोषी समेत अलग मकान में रहता है। वह अपने दूसरे पुत्र अजय के साथ रहती है।बुधवार को जीतू का अपनी पत्नी से विवाद हो गया। पत्नी संतोषी ने अपने मायके भोगनीपुर के श्याम सुंदरपुर गांव में सूचना भेजी तो वहां से मायके पक्ष के लोग आ गए। मायके वालों के समझाने पर पत्नी संतोषी ने जीतू के खिलाफ मारपीट करने की शिकायत कर दी।बुधवार को शाम पुलिस ने पति-पत्नी को बरौर थाने में बुलाकर समझौता करा दिया था। तब पत्नी संतोषी अपने मायके वालों के साथ चली गई थी।जीतू अपने कमरे में सोने चला गया। गुरुवार सुबह साड़ी के फंदे से उसका शव लटका मिला। एसआइ बृजकिशोर,एसआई अजीत सिंह, रजनीश सिंह, पुलिस बल के साथ घटनास्थल पर गए और जांच की। आशंका है कि विवाद के चलते जीतू ने फांसी लगाई। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में भी फांसी से मौत होने का कारण आया है।

ससुरालीजनों पर हत्या का आरोप

जीतू की मां विटान देवी का आरोप है कि जीतू का पत्नी से विवाद होने के कारण जीतू के ससुरालीजनों ने बुधवार की रात जीतू के घर आकर उसकी हत्या कर दी और आत्महत्या का रुप देने के लिए शव फांसी के फंदे पर लटका दिया। विटान देवी ने एफआइआर दर्ज करने के लिए पुलिस को तहरीर दी है। एसआइ अजीत सिंह ने बताया कि पीएम रिपोर्ट के आधार पर कार्रवाई होगी।

Edited By: Jagran