जागरण संवाददाता, कानपुर देहात : तापमान में लगातार हो रही गिरावट के कारण लोगों को सर्दी का सामना करना पड़ रहा था। वहीं शुक्रवार को सुबह कोहरे ने जहां यातायात की चाल बिगाड़ दी तो अधिकतम तापमान में बढ़ोतरी होने के साथ ही दोपहर में हल्की धूप निकलने से लोगों को खासी राहत मिली। हालांकि अब फिर से मौसम बिगड़ने की संभावना जताई गई है, जिससे 22-24 जनवरी के मध्य गरज चमक के साथ बारिश हो सकती है।

पिछले एक सप्ताह से तापमान में लगातार गिरावट हो रही थी। वहीं कोहरे व गलन के कारण लोगों को घरों में भी राहत नहीं मिल रही। जबकि न्यूनतम तापमान में भी गिरावट हो रही थी और यह 2.6 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया था, लेकिन शुक्रवार को यकायक तापमान में बढ़ोत्तरी हुई। इससे अधिकतम तापमान 20 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया। वहीं न्यूनतम तापमान 4.0 डिग्री सेल्सियस रहा। सुबह घना कोहरा छाया रहा इससे हाईवे व प्रमुख मार्गों पर वाहन सवार धीमी गति से चले। दृश्यता कम होने से समस्या भी हुई। हालांकि दोपहर में धूप निकलने के कारण लोगों को सर्दी से मामूली राहत जरूर मिली, लेकिन शाम होते होते फिर से गलन शुरू हो गई। हवा की गति सामान्य से अधिक 2.3 किमी प्रति घंटे रही। चंद्रशेखर आजाद कृषि विश्वविद्यालय के मौसम विज्ञानी डा. एसएन सुनील पांडेय ने बताया कि पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से तापमान में बढ़ोतरी हुई है, लेकिन 22-24 जनवरी के मध्य फिर से मौसम बिगड़ने की संभावना बन रही है। इससे हल्की से मध्यम बारिश के साथ ही ओलावृष्टि की संभावना भी दिख रही है।

Edited By: Jagran