जागरण संवाददाता, कानपुर देहात : नगर पंचायत अकबरपुर की कान्हा गोशाला में अव्यवस्था का अंबार है। यहां गेट पर ही गोवंश का शव कुत्ते नोच रहे हैं। आते-जाते लोग इसे देख रहे पर शव को कहीं दफन कराने की व्यवस्था नहीं की गई। वहीं गोशाला में गंदगी का अंबार है तो गोवंश बीमार हालत में हैं।

कानपुर-इटावा हाईवे किनारे ही कान्हा गोशाला बनी है, लेकिन यहां से गुजरने पर ही अव्यवस्था नजर आ जाएगी। इसके गेट पर ही गोवंश का शव पड़ा है जिसकी दुर्गंध दूर-दूर तक जाती है। आने-जाने वालों को मुंह व नाक बंद कर गुजरना पड़ रहा है। कुत्ते शव नोच रहे थे। यहां के कर्मचारी भी इस तरफ ध्यान नहीं दे रहे हैं। इसके अलावा गोशाला के अंदर गंदगी का अंबार है। गोबर समय से नहीं उठाया जाता है व बारिश में तो हालत बुरे हो जाते हैं। यहां पर दो गोवंश बीमार पड़े हैं, लेकिन समुचित देखभाल न होने से मरणासन्न स्थिति में चली गई हैं। इलाज सही ढंग से हो तो यह अपने पैर पर खड़ी जो जाएं। जिम्मेदार नगर पंचायत इसका संचालन कर रही है, लेकिन वह भी आंख मूंदे है। वहीं नबीपुर गोशाला में भी हाल सही नहीं हैं। यहां पर कीचड़ व गंदगी के बीच गोवंश रहने को मजबूर हो रहे हैं। यहां पर चार सौ से अधिक गोवंश हैं पर हरा चारा पर्याप्त संख्या में नहीं है, ऐसे में दाना व भूसे से काम चलाना पड़ रहा है।

Edited By: Jagran