संवाद सहयोगी, रसूलाबाद : क्षेत्र के गौतमबुद्ध नगर में एक टाइल्स कारीगर घनश्याम ने गमछे का फंदा लगाकर जान दे दी। आत्महत्या का कारण पता नहीं चल सका है।

गौतमबुद्ध नगर निवासी किसान सियाराम ने बताया कि उनका 19 वर्षीय पुत्र घनश्याम चेन्नई में रहकर टाइल्स लगाने का काम करता था। 23 अक्टूबर को वह घर पर आया था। बुधवार रात वह घर से कहीं बाहर गया थी। काफी रात तक न लौटने पर उसने उसकी अपने बड़े पुत्र श्याम सिंह के साथ जाकर तलाश की। काफी खोजबीन पर भी जब वह नहीं मिला तो वह घर वापस लौट आए। इसी दौरान उसका बड़ा पुत्र श्याम सिंह घर के बगल में लघुशंका करने गया तो पास में बेरी के पेड़ से घनश्याम का शव गमछे से लटका देख होश उड़ गया। मां कुंती देवी, भाई श्याम सिंह, अनमोल, बहने सुधा, राधा व कंचन का रो-रोकर बुरा हाल हो गया। रसूलाबाद थाना प्रभारी प्रमोद कुमार शुक्ला पहुंचे और पूछताछ की, पिता ने बताया कि ऐसी कोई बात नहीं थी कि वह जान दे दें। उसने यह कदम क्यों उठाया पता नहीं। थाना प्रभारी ने बताया कि आत्महत्या का कारण पता नहीं चल सका है।

Edited By: Jagran