कानपुर, जेएनएन। कानपुर शहर में बीते तीन दिन से जारी बारिश ने बीस साल का रिकार्ड ब्रेक कर दिया है। बुधवार शाम से शुरू हुई बारिश लगातार जारी है और शुक्रवार की सुबह तक 102.4 मिलीमीटर वर्षा रिकार्ड की गई है। मौसम विभाग की मानें तो बारिश अभी आगे भी जारी रहने की संभावना है। उसका असर जरूर कम हो सकता है, लेकिन बूंदाबांदी और हल्की वर्षा होती रहेगी। बीच बीच के थोड़ी देर के लिए धूप भी निकल आएगी। बंगाल की खाड़ी में नया सिस्टम बन रहा है। वहां निम्न दबाव का क्षेत्र सक्रिय हुआ है, जिसके मैदानी क्षेत्रों में आने के आसार हैं।

मौसम विभाग के अनुसार कानपुर शहर समेत लखनऊ, प्रयागराज, इटावा, औरैया, फर्रुखाबाद, कन्नौज, कानपुर देहात समेत अन्य शहरों में गुरुवार से शुक्रवार की सुबह तक झमाझम बारिश जारी है। गुरुवार तक वर्षा ने 20 साल का रिकार्ड तोड़ दिया है। सीएसए विश्वविद्यालय के रिकार्ड के मुताबिक 16 सितंबर को पिछले 20 साल में इतनी बारिश नहीं हुई है। बुधवार तक मानसूनी सीजन में 73.9 मिलीमीटर ही वर्षा रिकार्ड हुई, जबकि सामान्य 87 मिलीमीटर वर्षा होती है। गुरुवार और शुक्रवार की बारिश के बाद आंकड़ा 102.4 मिलीमीटर रिकार्ड की है। वहीं अधिकतम तापमान 26.6, न्यूनतम 24.0 डिग्री सेल्सियस रहा। अधिकतम आर्द्रता 95 फीसद रिकार्ड हुई।

30 सितंबर तक खिंच सकता मानूसन

चंद्रशेखर आजाद कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के मौसम विभाग के विज्ञानी डा. एसएन सुनील पांडेय ने बताया कि हर वर्ष मानसून 17 सितंबर तक रहता है, लेकिन मौजूदा सिस्टम 30 सितंबर तक सक्रिय रहने का आकलन कर रहे हैं। 19 सितंबर से दूसरा निम्न दबाव का क्षेत्र बन रहा है। यह भी काफी तेजी से बंगाल की खाड़ी से मैदानी क्षेत्रों की ओर आएगा।

बंगाल की खाड़ी में बना नया सिस्टम

मौसम विज्ञानी डा. एसएन सुनील पांडेय ने बताया कि मानसून सिस्टम अभी उत्तर प्रदेश के ऊपर बना हुआ है। इसका ज्यादा असर तराई वाले क्षेत्रों की और ज्यादा बना हुआ है। अयोध्या, बलरामपुर, गोंडा, बस्ती, देवरिया, सीतापुर, हरदोई, बरेली में तेज और काफी बारिश होगी। आंधी जैसी हवा चलेगी, जबकि बिजली गिरने की आशंका है। तापमान में दो डिग्री और गिरावट आ गई है। शुक्रवार को अधिकतम तापमान 27 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड हुआ था।

डा. पांडेय के मुताबिक शाम और रात तक निम्न दबाव का क्षेत्र आगे निकल सकता है। शनिवार को राजस्थान की ओर पहुंचने की संभावना है। बारिश कराने वाले बदल उत्तर प्रदेश के ऊपर बने हुए हैं। राजस्थान, गुजरात और मध्य प्रदेश के ऊपर चक्रवाती हवा का क्षेत्र बना हुआ है। यह बंगाल की खाड़ी और अरब सागर की हवा को अपनी ओर खींच रहा है। शुक्रवार को भी बारिश जारी है। सड़क, चौराहे और गलियों में जलजमाव है। कल्याणपुर, बर्रा, नवाबगंज, सिविल लाइन्स, पनकी, किदवई नगर, बाबू पुरवा समेत अन्य क्षत्रों में पानी ही पानी है।

Edited By: Abhishek Agnihotri