Move to Jagran APP

Kanpur News : स्कॉर्पियो गाड़ी से ग्राम प्रधान युवक को ले गया होटल में, कमरे कराए बुक- रात 12 बजे के बाद रिसेप्शन पर जाकर बोला...

गाड़ी में पहले से कुशल पालविपिन कुमार व श्रेय नाम का युवक बैठा था। रात करीब साढ़े 10 बजे सभी घंटाघर के पास गणेश मंदिर रोड स्थित प्रिया होटल पहुंचे। यहां पर ग्राम प्रधान ने दो कमरे किराए पर लिए। वहां पर रुकने के बाद सभी ने खाना-पीना किया। रात करीब 12 बजे ग्राम प्रधान जितेंद्र ने रिसेप्शन में पहुंचकर नारायण सिंह की तबियत खराब होने की सूचना दी।

By Jagran News Edited By: Mohammed Ammar Sat, 25 May 2024 05:51 PM (IST)
इटावा के ब्लाक कोआर्डिनेटर की संदिग्ध अवस्था में मृत्यु

जागरण संवाददाता, कानपुर : घंटाघर चौराहे के पास स्थित प्रिया होटल में ब्लाक कोआर्डिनेटर की खाना खाने के बाद तबियत खराब हो गई। इसके बाद उसे हैलट अस्पताल में भर्ती कराया गया। इलाज के दौरान उसकी मृत्यु हो गई। सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम करने के बाद स्वजन को सौंप दिया। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद पुलिस ने आगे की कार्रवाई की बात कही है।

लोगों के साथ गाड़ी से पहुंचे थे होटल में

इटावा के फ्रेंडस कालोनी थाना क्षेत्र के बगिया अड्डा निवासी कौशल किशोर ने बताया कि उनका भांजा नारायण सिंह चकर नगर ब्लाक में कोआर्डिनेटर के पद पर तैनात था।वह मूलरूप से आगरा जनपद के जैतपुर थाना क्षेत्र के कनपुरा गांव का निवासी है। ब्लाक में नौकरी लगने के बाद वह परिवार साथ रहने लगा था।

यह भी पढ़ें : UP Politics : इलाहाबाद में गठबंधन प्रत्याशी उज्जवल रमण सिंह के पिता को पुलिस ने लिया हिरासत में, देखें वीडियो

परिवार में पत्नी ममता के साथ ही दो बेटियां अन्या व अनवी है। स्वजन के अनुसार शुक्रवार को चकर नगर गांव के प्रधान जितेन्द्र कुमार दोपहर के समय नारायण को बुलाया था। इसके बाद वह उसे अपनी स्कार्पियो गाड़ी में बिठाकर ले गए थे।

गाड़ी में पहले से ही गांव के कुशल पाल,विपिन कुमार व श्रेय नाम का युवक बैठा था। रात करीब साढ़े 10 बजे सभी घंटाघर के पास गणेश मंदिर रोड स्थित प्रिया होटल पहुंचे। यहां पर ग्राम प्रधान ने दो कमरे किराए पर लिए। वहां पर रुकने के बाद सभी ने खाना-पीना किया। रात करीब 12 बजे ग्राम प्रधान जितेंद्र ने रिसेप्शन में पहुंचकर नारायण सिंह की तबियत खराब होने की सूचना दी।

इसके बाद सभी गंभीर अवस्था में नारायण को भर्ती कराने के लिए हैलट अस्पताल पहुंचे। इलाज के दौरान नारायण सिंह की मृत्यु हो गई। सुतरखाना चौकी प्रभारी आदित्य बाजपेयी ने बताया कि शव का पोस्टमार्टम कराने के बाद स्वजन को सौंप दिया गया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

स्वजन ने हत्या का लगाया आरोप

मृतक के मामा कौशल किशोर ने बताया कि उनके भांजे की जहर देकर हत्या की गई है। स्वजन ने आशंका व्यक्ति की है कि ग्राम प्रधान का काम नहीं करने पर उसने ऐसा किया है। हालांकि मामा का कहना था कि आगे की कार्रवाई वह पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद करेंगे। हत्या की आशंका व्यक्त करते हुए स्वजन हरबंस मोहाल थाने में एक तहरीर भी दी है। जिसमें ग्राम प्रधान पर हत्या की साजिश रचने के आरोप लगाए गए हैं।