संस, कल्याणपुर: सचेंडी के संबलपुर गांव स्थित श्री दीनदयाल कुशवाहा महाविद्यालय में स्नातक की परीक्षा में शनिवार को छात्रों ने नकल कराए जाने का आरोप लगाते हुए जमकर हंगामा किया। परीक्षा खत्म होने के बाद कुछ छात्र अपनी कक्षा से निकलकर नीचे परिसर में पहुंच गए और नारेबाजी शुरू कर दी। इस दौरान शिक्षक व छात्रों के बीच धक्का मुक्की भी हुई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने छात्रों को समझा-बुझाकर शांत कराया।

संबलपुर गांव स्थित महाविद्यालय में शनिवार को सुबह पहली पाली में बीएससी द्वितीय वर्ष रसायन विज्ञान व बीए द्वितीय वर्ष के छात्रों की अर्थशास्त्र की परीक्षा आयोजित की गई। परीक्षा के बाद जब छात्र बाहर निकले तो उनकी नजर महाविद्यालय के कुछ कमरों पर पड़ी। आरोप है कि उसमें शिक्षक बोर्ड पर लिखकर नकल करा रहे थे। इसके बाद छात्र दूसरे परीक्षा कक्षों में घुस गए और गाली गलौज करते हुए हंगामा शुरू कर दिया। कुछ छात्र सड़क पर आकर बैठ गए। सूचना पर पहुंची पुलिस ने हंगामा कर रहे छात्रों को जांच के बाद कार्रवाई का आश्वासन देकर शांत कराया। सचेंडी थाना प्रभारी सतीश राठौर ने बताया कि छात्रों को शांत कराकर वहां से हटा दिया गया।

-----------------

स्नातक के छात्रों की अलग-अलग बैठक व्यवस्था होती है। कंप्यूटर आपरेटर से यह चूक हुई कि उसने अर्थशास्त्र का बैठक प्लान नहीं बनाया था जिससे छात्रों को 20 मिनट देरी से कक्षा में बिठाया जा सका। परीक्षा का समय खत्म होते ही छात्रों से उत्तर पुस्तिकाएं ले ली गईं जिसका उन्होंने विरोध करते हुए परिसर में हंगामा किया। नकल कराए जाने की बात गलत है।'

डा. हेमलता, केंद्राध्यक्ष दीनदयाल कुशवाहा महाविद्यालय

--------------

'छत्रपति शाहू जी महाराज विश्वविद्यालय की टीम मौके पर पहुंची और छात्रों से लिखित में शिकायत देने के लिए कहा। छात्रों ने नकल होने की शिकायत नहीं की। अब महाविद्यालय का वीडियो फुटेज देखकर आगे कार्रवाई की जाएगी।'

प्रो. सुधांशु पांडिया, डीन प्रशासन सीएसजेएमयू

Edited By: Jagran