कानपुर, जेएनएन। छत्रपति शाहूजी महाराज विश्वविद्यालय में बुधवार सुबह आईं राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने 34वें दीक्षा समारोह का शुभारंभ किया। दीप प्रज्ज्वलन में कुलपति और राज्यमंत्री भी मौजूद रहीं। इसके साथ ही मुख्य अतिथि पदम् भूषण प्रो.एन के गांगुली मौजूदगी में प्रधानमंत्री के योग गुरु को मानद उपाधि दी गई।

पूर्व प्रस्तावित कार्यक्रम के तहत राज्यपाल आनंदीबेन पटेल का हेलीकॉप्टर शहर पहुंचा। हेलीकॉप्टर से उतरने के बाद राज्यपाल छात्रपति शाहूजी महाराज विश्वविद्यालय के सभागार में पहुंची, जहां पर 34वें दीक्षा समारोह का आयोजन किया गया था। राज्यपाल ने दीप प्रज्ज्वलन करके कार्यक्रम का शुभारंभ किया। उनके साथ मुख्य अतिथि पदम् भूषण प्रो. एनके गांगुली, विशिष्ठ अतिथि उच्च शिक्षा राज्यमंत्री नीलिमा कटियार भी मौजूद रहीं। राज्यपाल पटेल ने विश्वविद्यालय में 6 करोड़ की लागत से बने स्विमिंग पूल का उद्घाटन किया। उनके सामने बच्चों ने तैराकी का प्रदर्शन किया तो उन्होंने प्रतिभा को सराहा। डीपीएस कल्याणपुर के 12वीं के छात्र मयंक टेकचंदानी की तैराकी देखकर प्रशंसा की। स्विमिंग पूल परिसर में उन्होंने पीपल का पौधा भी रोपा।

1426 छात्र-छात्राओं को मिलेंगी डिग्रियां

विश्वविद्यालय के दीक्षा समारोह में 55 छात्र-छात्राओं को 83 पदक और 1426 छात्र-छात्राओं को डिग्रियां दी जाएंगी। राज्यपाल ने डीएवी कॉलेज के एमए ड्राइंग एंड पेंटिंग के छात्र आदेश कुमार को कुलाधिपति स्वर्ण पदक तथा एमए संगीत की छात्रा कृति गुप्ता को विश्वविद्यालय की सर्वश्रेष्ठ छात्रा का पदक दिया। 15 पीएचडी छात्र-छात्राओं को डिग्रियां दी गईं और पीएम मोदी के योग गुरु पदम्श्री डॉ. एच आर नागेंद्र को मानद उपाधि दी। दीक्षा समारोह में पहली बार प्राथमिक विद्यालय के बच्चे मौजूद रहे और मुख्य गेट पर आगंतुकों को फूल देकर स्वागत किया।

Posted By: Abhishek

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप