उन्नाव, जेएनएन। शहर में हाईवे पर वाहन चेंकिग के दौरान रोकी कार में सवार युवकों की भाषा पुलिस को समझ नहीं आई तो उन्हें थाने ले जाया गया। थाने में पुलिस ने कार की तलाशी कराई तो मिलने वाले उपकरण और युवकों से पूछताछ के बाद चौंकाने वाला सच सामने आया। कार सवार पांचों युवक बेहद शातिर निकले और उनकी कारगुजारी का पता चलने पर पुलिस भी सन्न रह गई। क्राइम ब्रांच की टीम उनसे पूछताछ कर रही है।

लखनऊ-कानपुर हाईवे स्थित गदनखेड़ा चौराहे पर सदर कोतवाली पुलिस ने वाहन चेकिंग के दौरान एक संदिग्ध कार को रोका। पुलिस को देख कार सवार युवकों ने रफ्तार बढ़ा दी तो पीछा करके उन्हें पकड़ा गया। कार में दूसरे प्रांत का नंबर होने पर पुलिस को संदेह हुआ। कार में सवार पांच युवकों से पूछताछ की तो उनकी भाषा पुलिस की समझ में नहीं आई। पुलिस कार समेत पांचों को थाने ले गई।

कार की तलाशी लेने पर एटीएम क्लोनिंग मशीन और कई कागजात मिलने पर पुलिस सन्न रह गई। पुलिस ने भाषा को जानने वाले को बुलाकर युवकों से पूछताछ कराई। सभी युवक मलयालम बोल रहे हैं, पूछताछ में सामने आया कि वे एटीएम हैकर हैं। डिवाइस लगाकर एटीएम कार्ड की क्लोनिंग करते हैं। पुलिस के अनुसार पकड़े गए युवकों के नाम रईफर, सुचई, बिलाल, मोजिन व जमशीद हैं। क्राइम ब्रांच की टीम उनसे पूछताछ कर रही है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस