उन्नाव, जेएनएन। चाहे बेटा हो या बेटी, एक मां के लिए दोनों पर बराबर ही प्यार बरसता है लेकिन जनपद की सदर काेतवाली क्षेत्र के ग्राम हुसैन में सोलह साल तक मिले इस प्यार को एक बेटी ने पल भर में भुला दिया। प्यार में अंधी बेटी ने प्रेमी को घर बुलाकर मां का कत्ल करवा दिया। दो दिन तक पुलिस ने छानबीन की और जब सच सामने आया तो सभी सन्न रह गए। प्रेमी को पानी की चाहत में बेटी ने मां को मौत की नींद सुलकर रास्ते से हटा दिया। घटना के बाद अब गांव में मां के लिए उस पल को कोस रहे हैं जब उसने ऐसी बेरहम बेटी को जन्म दिया था।

यह हुई थी घटना

गुरुवार भोर पहर सदर कोतवाली पुलिस को सूचना मिली कि गांव हुसैन नगर में बचन्ने के घर में उसकी पत्नी पप्पी का लहूलुहान शव पड़ा है। पुलिस अज्ञात के खिलाफ हत्या की रिपोर्ट दर्ज कर जांच में जुट गई। एसपी ने फील्ड यूनिट व डाग स्क्वाड बुलाकर साक्ष्य संकलित कराए। कोतवाली पुलिस के अलावा एसओजी व सर्विलांस टीम को भी लगाया। पहले पति पर शक हुआ लेकिन घटना के समय उसके घर में नहीं होने की पुष्टि हुई। इसपर पुलिस ने दूसरे एंगल पर जांच शुरू की।

इस तरह खुला राज

एसपी आनंद कुलकर्णी ने पुलिस लाइन स्थित सभागार में बताया कि टीम को जानकारी मिली कि गुरुवार रात पप्पी की 16 वर्षीय बेटी से मिलने प्रेमी आयूब खां उर्फ सलमान घर आया था। इसके बाद टीम ने उसे पकड़ा और पूछताछ शुरू की। उसने बताया कि मृतका की बेटी ने घर से लाकर उसे कुछ गहने दिए थे। इसके बारे में पप्पी को पता चल गया था और बेटी से गहने वापस लाने को कहा था। इसी बात को लेकर बेटी से उसका विवाद होता था। इसपर दोनों ने मिलकर हत्या की साजिश रची थी। घटना वाले दिन प्रेमिका ने उसे फोन करके घर बुलाया। वह पहुंचा तो प्रेमिका अपनी मां को जगाकर घर के आंगन में लेकर आई। इसके बाद उसने महिला के सिर पर वार करके मौत के घाट उतार दिया। पुलिस ने उसकी निशानदेही पर आलाकत्ल व खून से सने कपड़े और किशोरी का मोबाइल फोन बरामद किया।

घटना से पहले दस बार हुई दोनों में बात : प्रेमी-प्रेमिका ने घटना को अंजाम देने से पहले आपस में 10 बार मोबाइल फोन पर बात की थी। इसका राजफाश पुलिस द्वारा दोनों के नंबर सर्विलांस पर लगने के बाद हो सका।

दूसरे वर्ग का होने से युवक के खिलाफ थे स्वजन : जिस युवक से बेटी के संबंध थे वह दूसरे समुदाय का था। इससे माता-पिता के अलावा उनके परिवार का विरोध भी था। प्रमुख कारण होने से सभी इसके खिलाफ थे।

प्रेम में पागल मन ने नहीं सुनी मां की चीख : किशोरी ने रात में प्रेमी को घर बुलाया और मां को जगाकर आंगन तक लाई। तभी मौका पाकर उसने महिला के सिर पर वार कर दिया। वार होते ही महिला की चीख निकल गई और वह बचाव की गुहार लगाने लगी। लेकिन पास खड़ी बेटी प्रेम में इतना पागल थी कि उसने मां की चीख तक न सुनी।

प्रेमी जेल तो प्रेमिका गई बाल अपचार गृह : मृतका की बेटी व उसके प्रेमी को पुलिस ने कोर्ट में पेश किया, जहां से उसे जेल भेजा गया। प्रेमी कब्बाखेड़ा स्थित अस्थायी जेल गया तो प्रेमिका के नाबालिक होने से उसे बाराबंकी स्थित बाल उपचार गृह भेजा गया।

Edited By: Abhishek Agnihotri