उन्नाव, जेएनएन। चीन में फैले कोरोना वायरस को लेकर पूरे देश में अलर्ट जारी है और स्वास्थ्य विभाग को चीन से आने वाले हर यात्री की स्क्रीनिंग के निर्देश हैं। चीन से लौटे दंपती में कोरोना वायरस जैसे लक्षण मिलने से स्वास्थ्य विभाग सक्रिय हो गया है और अफसरों ने भी गंभीरता दिखाई है। हेल्पलाइन पर सूचना के बाद दिल्ली से केंद्रीय स्तर पर स्वास्थ्य अधिकारी को खबरदार किया गया। डाक्टरों की टीम ने एंबुलेंस से दंपती को लाकर जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में रखा है।

मूलरूप से बिहार निवासी दंपती चीन की एक कंपनी में नौकरी करते हैं। कोरोना वायरस का संक्रमण फैलने के बाद दंपती 24 जनवरी को भारत आ गए थे। दिल्ली एयरपोर्ट से दोनों बिहार गए और फिर ओमप्रकाश पत्नी आस्था के साथ गुरुवार को उन्नाव के कब्बाखेड़ा मोहल्ला स्थित ससुराल आए थे। पति और पत्नी को बुखार-खांसी की परेशानी हुई तो उन्होंने टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर पर सूचना दी।

दिल्ली की हेल्पलाइन से उन्नाव सीएमओ को सूचना देकर खबरदार किया गया। कोरोना वायरस के संदिग्ध मरीज मिलने की सूचना पर स्वास्थ्य विभाग में खलबली मच गई। डॉ. आरएस मिश्र और डॉ. रवि के नेतृत्व वाली टीम कब्बाखेड़ा पहुंची और दंपती को लाइफ सपोर्ट एंबुलेंस से जिला अस्पताल ले आई। यहां डॉक्टरों की निगरानी में दंपती को आइसोलेशन वार्ड में भर्ती किया है।

सीएमएस डॉ. बीबी भट्ट ने बताया कि अभी संदिग्ध मरीजों को अंडर आब्जर्वेशन रखा गया है। ब्लड सैंपल लेकर जांच के लिए राज्य प्रयोगशाला भेजा जाएगा, रिपोर्ट आने तक संदिग्ध मानकर इलाज किया जाएगा। उन्होंने बताया कि पति को बुखार, खांसी और जुकाम के लक्षण है और उनकी पत्नी को खांसी की परेशानी है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस