कानपुर, जेएनएन। एसटीएफ लखनऊ ने हरबंश मोहाल पुलिस के सहयोग से शनिवार सुबह जाली नोटों के दो तस्करों को मुरे कंपनी पुल के पास गिरफ्तार कर लिया। आरोपितों के पास से 9400 के जाली नोट बरामद हुए। ये सभी नोट 100 और 200 की नई करेंसी के हैं। एसटीएफ की इस सफलता को पिछले दिनों लखनऊ के इटौंजा में हुई कार्रवाई की अगली कड़ी माना जा रहा है।

सर्विलांस व मुखबिर के जरिये मिली सफलता

पिछले दिनों लखनऊ के इटौंजा में पश्चिम बंगाल के मालदा से तस्करी कर लाए गए 170000 रुपये के जाली नोटों के साथ एक महिला व दो युवकों को गिरफ्तार किया था। इसके बाद उन तीनों की कॉल डिटेल सर्विलांस के जरिये एसटीएफ मालदा और यूपी के अन्य शहरों में फैले नेटवर्क को खंगालने में जुटी थी। मुखबिर की सूचना पर शनिवार सुबह एसटीएफ माल रोड पर मुरे कंपनी पुल के पास पहुंची और हरबंश मोहाल पुलिस के सहयोग से नौबस्ता मछलिया निवासी अमित राठौर और बिनागवां बिधनू निवासी अवधेश कुमार सिंह को गिरफ्तार कर लिया। उनके पास से 9400 के जाली नोट बरामद हुए।

हरबंश मोहाल इंस्पेक्टर संतोष अवस्थी ने बताया अमित और अवधेश ने लखनऊ के दीपक तिवारी नाम के एक व्यक्ति का नाम लिया है। दीपक से वह एक हजार रुपये असली नोटों के बदले 3000 के जाली नोटों की दर से चार हजार रुपये देकर 12 हजार रुपये के जाली नोट लाये थे। करीब 2600 रुपये के जाली नोटों से उन्होंने जुआ खेला और बचे नोट पकड़े गए। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है। 

Posted By: Abhishek

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस