महोबा, जेएनएन। बरसात से मकान के पड़ोस में लगा पेड़ गिरने से मकान ढह गया, जिससे सो रही आंगनबाड़ी सहायिका और दो मासूमों की दब कर मौत हो गई। वहीं तीन अन्य लोग भी घायल हुए, जिन्हें ग्रामीणों ने मलबे से बाहर निकालकर जान बचाई।

लगातार बरसात के चलते श्रीनगर थाना क्षेत्र के पवा गांव में सौ वर्ष पुराना बरगद का पेड़ शुक्रवार तड़के गिर गया। पेड़ पास के दो मंजिले मकान पर गिरा, जिससे मकान भी भरभरा कर बैठ गया। मकान गिरने से अंदर सो रही आंगनबाड़ी सहायिका 48 वर्षीय गौरीबाई और उनके बेटे संजू के पुत्र चार वर्षीय राज व दो वर्षीय प्रशांत की मौके पर मौत हो गई। वहीं संजू की 25 वर्षीय पत्नी गायत्री व उनका भाई 18 वर्षीय दीपक मलबा में दब गए। उनको निकालने के प्रयास में दीपक के चाचा मंगल पुत्र नंद किशोर भी घायल हो गए। मकान गिरते ही मचे कोहराम से पड़ोस के लोगों ने दौड़ कर मलबे में दबे लोगों को निकालकर पुलिस को घटना की सूचना दी। मौके पर पुलिस अधीक्षक स्वामीनाथ, उप जिलाधिकारी देवेन्द्र सिंह, पुलिस क्षेत्राधिकारी दिनेश यादव, थानाध्यक्ष राकेश सरोज सहित चरखारी व अजनर थाने की पुलिस ने पहुंच कर घायलों को अस्पताल भेजा। 

Posted By: Abhishek

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस