उरई, जेएनएन। उरई, जेएनएन। जालौन कोतवाली क्षेत्र में स्टेट हाईवे पर पेट्रोल पंप मैनेजर से लूट के मामले में सर्विलांस व जालौन कोतवाली पुलिस ने तीन बदमाशों को गिरफ्तार किया है। आरोपितों के पास से लूट की रकम के अलावा एक कार भी बरामद की गई है। बदमाशों को उम्मीद थी कि मैनेजर से करीब 15 लाख रुपये तक मिल सकते हैं। इसी उम्मीद में उन लोगों ने दुस्साहसिक घटना अंजाम दी। 

यह है पूरा मामला: पांच जुलाई को जालौन में बाइक सवार बदमाशों ने पेट्रोल पंप के मैनेजर मेहर बहादुर पुत्र भैयालाल से तमंचा के बल पर 3 लाख 26 हजार रुपये लूट लिए थे। स्थानीय पुलिस के अलावा  एसओजी व सर्विलांस टीम को भी जांच में लगाया गया था। 18 दिन की तहकीकात के बाद पुलिस बदमाशों को ट्रैक कर उनको गिरफ्तार करने में सफल हो गई। प्रेस वार्ता के दौरान पुलिस अधीक्षक रवि कुमार ने बताया कि वारदात को विनोद कुमार राठौर निवासी मोहल्ला गांधीनगर थाना माधौगढ़, अकाश शर्मा निवासी इस्लामपुर थाना मुरैना जनपद मुरैना (मध्य प्रदेश) एवं राहुल पांडेय निवासी कस्बा वाह, थाना वाह जनपद आगरा ने अंजाम दी थी। सर्वेश कुमार अग्निहोत्री व आकाश शर्मा ने रेकी की थी। आरोपितों ने बताया कि सर्वेश व आकाश ने उनको बताया था कि पेट्रोल पंप मैनेजर से 15 लाख रुपये तक मिल सकते हैं। वारदात के अंजाम देने के बाद वे बाइक निर्माणाधीन बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे तक पहुंचे वहां से कार पर सवार होकर मध्य प्रदेश भाग गए। 

एसपी ने बताया कि आरोपितों ने कोंच क्षेत्र में एक बाइक की डिग्गी से पौने तीन लाख रुपये चोरी करने की घटना भी स्वीकार की है। बदमाशों के पास से लूट की रकम में से 38 हजार रुपये एवं एक कार बरामद हुई है। घटना की साजिश में कुल छह लोग शामिल थे। तीन की तलाश की जा रही है।  जल्द उनको गिरफ्तार किया जाएगा। बदमाशों को पकडऩे वाली टीम में जालौन कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक सुनील सिंह, महेश कुमार, एसएसआइ आनंद सिंह, सर्विलांस प्रभारी कुलभूषण यादव, बलराम शर्मा, गंगा सागर आदि शामिल थे। 

Edited By: Shaswat Gupta