मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

उन्नाव, जेएनएन। सावन के सोमवार पर परिवार संग गंगा नहाने बंदीपुरवा घाट पर आए दो युवक और चार किशोर गहरे पानी में डूब गए। घाट पर मौजूद लोगों ने तीन किशोरों को बचा लिया, लेकिन दो युवकों और एक किशोर की डूबकर मौत हो गई। पुलिस ने गोताखोरों की मदद से कई घंटे की मशक्कत के बाद तीनों के शवों को बाहर निकलवाया। शवों को देखकर परिजनों में कोहराम मच गया और घाट पर लोगों की भीड़ लगी रही।

अचलगंज थानाक्षेत्र के बंदीपुरवा घाट पर कई परिवार गंगा नहाने आए थे। इस बीच मवइया लायक गांव निवासी 18 वर्षीय सुजीत पुत्र राजकुमार और 15 वर्षीय अरुण पुत्र मुकेश, बदरका निवासी 20 वर्षीय रिंकू पुत्र रामू, गौरव पुत्र राजकुमार, सफीपुर निवासी रौनक पुत्र श्रीपाल और बदरका निवासी अनिल पुत्र धर्मराज गहराई में जाने से डूबने लगे। छह लोगों को डूबते देखकर घाट किनारे चीख पुकार मच गई। गंगा किनारे मौजूद तैराक युवकों ने किसी तरह गौरव, रौनक व अनिल को सकुशल बाहर निकाल लिया।
वहीं सुजीत, अरुण व रिंकू गंगा की लहरों में समा गए। साथ आए परिजनों में कोहराम मच गया और लोगों ने अचलगंज पुलिस को सूचना दी। जानकारी मिलते ही घाट पर पहुंची पुलिस ने शुक्लागंज से गोताखोरों को बुलाया। घाट पर आए गोताखोरों ने काफी मशक्कत के बाद सुजीत व अरुण के शव बाहर निकाले। रिंकू का पता न चलने पर पुलिस ने एसडीआरएफ की टीम को सूचना दी। टीम के पहुंचने से पहले गोताखोरों ने रिंकू का शव भी खोज लिया और बाहर निकाला। शवों को देखते ही परिजनों में कोहराम मच गया, वहां मौजूद लोगों की भी आंखें नम हो गईं।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Abhishek

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप