जागरण संवाददाता, कानपुर : सीरिया के मुद्दे पर अमेरिका और रूस में तीखी तनातनी के चलते सोने की कीमतें तेजी से बढ़ने लगी हैं। रूस द्वारा तीसरे विश्व युद्ध की धमकी के चलते तमाम देश कच्चे तेल का स्टाक बढ़ाते जा रहे हैं। नतीजतन इसके भुगतान के लिए सोने की मांग भी बढ़ रही है जिसका असर सोने की कीमतों पर पड़ रहा है। कारोबारियों का मानना है कि जिस तरह अमेरिका, ब्रिटेन व फ्रांस ने सीरिया पर मिसाइलों से हमला किया है, उसका असर सोमवार को भी बाजार पर दिख सकता है।

सराफा कारोबारियों के मुताबिक दुनिया में कहीं भी युद्ध की स्थितियां बनने पर सबसे पहले कच्चे तेल का स्टाक किया जाना शुरू हो जाता है। ऐसा ही इस बार भी हो रहा है। सराफा कारोबारियों के अनुसार अंतरराष्ट्रीय सराफा बाजार सोमवार से शुक्रवार रात तक काम करता है। शनिवार और रविवार को यह बाजार बंद रहता है। सोमवार से शुक्रवार तक जो रेट बढ़े हैं वे सिर्फ बयानबाजी के आधार पर हैं। अमेरिका, ब्रिटेन व फ्रांस ने जो हमला किया वह शुक्रवार को अंतर्राष्ट्रीय सराफा बाजार (कॉमेक्स) के बंद होने के बाद किया। इस वजह से इसका असली असर सोमवार को ही नजर आएगा। हालांकि इस हमले के बाद शनिवार को भारत के बाजारों में सोने के भाव बढ़कर बोले गए।

-- -- -- -- -- -- -- -- --

भारतीय सराफा बाजार भाव प्रति 10 ग्राम

तारीख दिन कीमत

9 अप्रैल सोमवार 31,850

10 अप्रैल मंगलवार 31,870

11 अप्रैल बुधवार 31,970

12 अप्रैल गुरुवार 32,220

13 अप्रैल शुक्रवार 32,560

Posted By: Jagran