फतेहपुर, जेएनएन। प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने कहा है कि प्रदेश में झूठ की सरकार चल रही है और साढ़े चार साल में दुर्गति कर डाली है। सत्तासीनों के अहंकार के चलते प्रदेश का विकास नहीं हो पा रहा है। सामाजिक परिवर्तन रथ लेकर निकले प्रसपा अध्यक्ष फतेहपुर में रात्रि विश्राम के बाद सुबह रवानगी से पहले भाजपा सरकार पर हमलावर रहे।

प्रसपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव गुरुवार की सुबह लोक निर्माण विभाग के डाक बंगले में पत्रकारों से मुखातिब हुए। उन्होंने कहा कि मैं महोबा से लेकर फतेहपुर तक देखते हुए आया हूं कि सड़कों की बुरी दशा हो गई है। सत्तासीनों का अहंकार ही कारण है, जिससे प्रदेश में विकास रुका है। फ्लाईओवर और सड़कें तो दी थीं लेकिन उनके भी काम पूरे नहीं कराए गए। उन्होंने कहा कि प्रदेश में भ्रष्टाचार चरम पर है, तहसील से लेकर थानों तक बिना लेनदेने के कोई काम नहीं होता है। जनता की सुनवाई नहीं हो रही है, वह परेशान घूम रही है।

उन्होंने कहा कि सामाजिक परिवर्तन रथ के साथ जन जुड़ाव को देखते हुए लग रहा है कि यात्रा सत्ता परिवर्तन कराने की तरफ सही दिशा में बढ़ रही है। किसान, युवा, व्यापारी परेशान है। किसानों की अनदेखी करके उद्योगपतियों का सहारा बनी हुई है। लखीमपुर खीरी में किसानों के ऊपर ज्यादती हुई है। लोकतंत्र में सत्याग्रह करने और अपनी बात रखने का सभी को अधिकार है लेकिन सरकार ऐसे आयोजनों को बल पूर्वक कुचलने का काम करती है।

उन्होंने कि प्रदेश में अब कानून बचा ही नहीं है, अब आगरा में सिपाहियों ने फिर एक युवक को मार डाला। निरंकुश प्रशासन ने जनता का जीना हराम कर दिया है। आने वाले समय में जनता सबक सिखाएगी। विधानसभा चुनाव में गठबंधन और प्रत्याशी उतारने के प्रश्न पर कहा कि बात चल रही है, समय पर खुलासा किया जाएगा। सपा से गठबंधन के प्रश्न पर कहा कि समय आने पर सामने आ जाएगा। परिवार में बिखराव पर कहा कि हम सभी जब एक थे तब सपा बुलंदियों में पहुंची थी। आज क्या स्थिति हुई है, यह किसी से छिपी नहीं है। इसके बाद वह कौशांबी जनपद के लिए रवाना हो गए।

Edited By: Abhishek Agnihotri