कानपुर (जागरण संवाददाता)। पुलिस एक बदमाश को गिरफ्तार करके ले जा रही थी। इस बीच बदमाश पास में बैठे सिपाही की एके-47 छीनकर जीप से कूद जाता है और भागने लगता है। जीप में पुलिस जवान उसका पीछा करते हैं और फिर जंगल में पुलिस-बदमाश के बीच मुठभेड़ होती है। कई राउंड फायरिंग के बाद बदमाश गोली लगने से घायल हो जाता है और पुलिस उसे पकड़ लेती है। सुनने में भले ही यह किसी फिल्म का सीन लग रहा हो लेकिन यह हकीकत की घटना है। सोमवार भोर पहर चकेरी पुलिस और लूट के मामले में गिरफ्तार इनामी बदमाश के बीच इसी तरह काकोरी के जंगल में मुठभेड़ हुई।

किराना व्यापारी से लूट में गिरफ्तार कर ला रही थी पुलिस

श्यामनगर में किराना व्यापारी से साढ़े चार लाख लूट के मामले में पुलिस 25 हजार के इनामी मोहसिन की तलाश कर रही थी। सोमवार भोर पहर चकेरी पुलिस ने लुटेरे मोहसिन को फाहिमाबाद स्थित घर से गिरफ्तार किया और जीप से लेकर आ रही थी। काकोरी डीएमएसआरडीइ पुलिया से पहले जीप खराब हो गई। इस बीच मौका पाकर सिपाही की एके 47 लेकर मोहसिन कूदकर काकोरी के जंगलों में भाग निकला। इससे पुलिस कर्मियों के हाथ-पांव फूल गए।

पुलिस की गोली से घायल हुआ बदमाश

सूचना पर रेलबाजार इंस्पेक्टर मनोज रघुवंसी व कैंट पुलिस पहुंची और जंगल मे कांबिंग शुरू की। चकेरी पुलिस को जंगल में लुटेरा दिख गया। पुलिस का दावा है कि उसने एके 47 से तीन गोलियां चलाई। इसपर पुलिस ने जवाबी फायर किए और एक गोली उसके दाएं पैर में लगी। इससे मोहसिन लहूलुहान होकर गिर पड़ा। पुलिस ने एके 47 बरामद करने के बाद घायल बदमाश लुटेरे को ट्रामा सेंटर भेजा। मौके पर एसपी पूर्वी राजकुमार अग्रवाल व सीओ कैंट अविनाश पांडेय पहुंचे और फोरेंसिक टीम ने छानबीन की।

चप्पल व्यापार की आड़ में लूट

मोहसिन डेढ़ साल पहले सऊदी अरब से लौटा है। वहां वह चमड़े का काम करता था। यहां पर उसने चप्पल की दुकान खोल रखी है, जिसकी आड़ में वह लूट में शामिल हो गया और एक साल में शहर में कई घटनाओं को अंजाम दिया। पूछताछ में मोहसिन ने पुलिस को बताया कि रिंकू और शादाब के कहने पर वह लूट में शामिल हुआ था। चकेरी पुलिस ने लूट के 3.76 लाख रुपये बरामद कर लिये हैं।

Posted By: Abhishek