कानपुर, जेएनएन। राशन वितरण के दौरान बरती जा रही अनियमितताओं की शिकायत के बाद अब आपूर्ति विभाग ने सख्ती शुरू की है। राशन वितरण के दौरान नोडल अधिकारी तैनात रहेंगे। पूर्ति निरीक्षक भी दुकानों का निरीक्षण करेंगे। कोटेदार अगर  अनियमितता करते पाए गए तो उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। राशन कार्ड धारकों को  खाद्यान्न वितरण के दिन निर्धारित किए गए हैं। दुकानों पर भीड़ न हो इसके लिए राशन कार्ड के अंतिम अंक के अनुसार खाद्यान्न का वितरण किए जाने के निर्देश दिए गए हैं। कोटेदारों को सुबह से शाम तक दुकानें खोलने के भी निर्देश दिए गए हैं। इसके बावजूद बड़ी संख्या में कोटेदार नियमित रूप से राशन नहीं बांटते हैं। वे किसी एक दिन कार्ड धारकों से ई पाश मशीन में अंगूठा लगवाकर उनकी पर्ची बनाकर दे देते हैं। बाद में उनको खाद्यान्न के लिए बुलाया जाता है। राशन वितरण के दौरान गड़बड़ी न हो इसके लिए नोडल अधिकारी तैनात किए गए हैं। कम राशन मिलने, निश्शुल्क राशन न मिलने, राशन की दुकान बंद होने सहित अन्य अनियमितताओं की शिकायत राशन कार्ड धारक नोडल अधिकारी से कर सकते हैं। राशन वितरण में गड़बड़ी पाई जाने पर नोडल अधिकारियों पर भी कार्रवाई की जाएगी। राशन वितरण के दौरान भीड़ न हो इसको लेकर राशन कार्ड के अंतिम अंकों के अनुसार राशन बांटा जा रहा है। इसके लिए हर दिन के लिए अलग-अलग अंक निर्धारित किए गए हैं। दुकानों पर भीड़ न हो इसके लिए राशन कार्ड के अंतिम अंक के अनुसार राशन वितरण की व्यवस्था की गई है। इसके साथ ही राशन की दुकानों पर आने वाले लोगों को कोरोना गाइड लाइन का पालन भी करना होगा। जिलापूर्ति आधिकारी अखिलेश कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि राशन वितरण में अनियमितता पाए जाने पर कोटेदारों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

 

Edited By: Shaswat Gupta