फर्रुखाबाद, जेएनएन। PM Narendra Modi Cancelled CBSE Board 12th Exams सीबीएसई की परीक्षा रद होने के संबंध में फीडबैक लेने के लिए छात्र-छात्राओं और अभिभावकों की आयोजित हुई वर्चुअल मीटिंग में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी जुड़े। उनसे शहर स्थित कालेज की 12वीं की छात्रा शिवानी मिश्रा को बात करने का मौका मिला। शिवानी ने कहा कि परीक्षा रद होने पर वह निराश हुईं, मगर कोरोना के खतरे को देख यह फैसला सही लगा। 

इस तरह हुई पीएम से बात:  शिवानी ने बताया कि गुरुवार दोपहर को सीबीएसई की ओर से उसके मोबाइल फोन पर एक लिंक और पासवर्ड भेजा गया था। वह शहर के रोजी पब्लिक स्कूल में 12वीं की छात्रा है। 10वीं की परीक्षा में 96.2 फीसद अंक पाए थे। शिवानी के पिता शिवकुमार मिश्रा एआरटीओ आफिस में कर्मचारी हैं। 

प्रधानमंत्री ने पूछी राय: गुरुवार दोपहर को शिक्षा मंत्रालय की ओर आयोजित इस वर्चुअल मीटिंग में फतेहगढ़ क्षेत्र के मोहल्ला गाढ़ीखाना निवासी शिवानी मिश्रा भी आनलाइन थीं। सीबीएसई के सचिव का परीक्षा स्थगन के संबंध में संवाद चल रहा था। इसी दौरान अचानक उन्होंने कहा कि अब आपके बीच विशेष मेहमान आ रहे हैं। पलक झपकते ही स्क्रीन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सामने थे। उन्होंने छात्रा शिवानी से भी परीक्षा स्थगित करने के फैसले पर राय पूछी। इस पर शिवानी ने कहा कि सर, जब परीक्षा स्थगित करने का फैसला आया तो पहले मैं हताश हो गई थी कि साल भर मेहनत की, अब परीक्षा से वंचित रह गए, लेकिन बाद में कोरोना जैसी बीमारी की भयावह स्थिति देखी, जिसमें कई बच्चे संक्रमित हो गए या फिर उनकी मौत हो गई थी। ऐसे में आपका यह फैसला सही कदम लगा। 

पीएम मोदी ने शिवानी को दी सलाह: इस पर प्रधानमंत्री ने उसे धन्यवाद देते हुए कहा कि वह योग दिवस व पर्यावरण पर निबंध लिखें और उसका प्रचार-प्रसार करें। उसके बाद प्रधानमंत्री ने उसकी मां सीमा मिश्रा को प्रणाम किया और उनकी भी राय मांगी। उन्होंने भी परिस्थिति को देखते हुए परीक्षा स्थगन का फैसला सही ठहराया और धारा 370 हटाने के फैसले का भी स्वागत किया। इसके बाद प्रधानमंत्री ने उन्हें भी धन्यवाद ज्ञापित दिया। 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप