जागरण संवाददाता, कानपुर : सप्ताह भर से बैरियर लगाकर बंद किए गए सीओडी रेलवे पुल को जनता ने एक बार फिर से खोल दिया। गुरुवार को सीओडी क्रासिंग पर भीषण जाम देखकर कुछ बाइक सवारों ने वहां लगे अवरोध हटाए और जान जोखिम में डालते हुए आवागमन शुरू कर दिया। उधर, निर्माण कंपनी एक बार फिर काम बंद करके लापता हो गई है।

गुरुवार सुबह दस बजे सीओडी रेलवे क्रासिंग पर भीषण जाम लगा हुआ था। कुछ बाइक सवारों ने रामादेवी तरफ की रैंप से वाहन चढ़ा दिए और बीच बीच में लगे बैरियर को भी हटाते हुए आगे बढ़ गए। उनको देखकर पीछे से आ रहे वाहन सवार भी पुल पर चढ़ गए। अधूरे सीओडी रेलवे पुल पर लोगों ने जान तो जोखिम में डाली, लेकिन बगैर जाम में फंसे हुए आगे बढ़ गए।

पुल के निर्माण के नाम पर शहर और पीडब्ल्यूडी एनएच विभाग को वर्षो से धोखा दे रही कंपनी एक बार फिर काम बंद करके गायब हो गई। ठेकेदार और मजदूरों का कहीं अता पता नहीं है। लगातार दो वर्षो सें कंपनी हर माह पुल शुरू करने का झांसा दे रही है। पीडब्ल्यूडी एनएच के अधिशासी अभियंता एसके सिंह ने बताया कि शनिवार को लखनऊ में बैठक होनी है, जिसमें कंपनी से केंद्रीय राष्ट्रीय राजमार्ग विकास मंत्रालय के अधिकारी पूछताछ करेंगे।

Edited By: Jagran