कानपुर, जेएनएन। सोमवार की सुबह गंगा बैराज पर अटल घाट पर नहाते समय एक छात्र डूब गया, उसे बचाने के प्रयास में दो दोस्त भी डूबने लगे। चौकीदार ने नदी में छलांग लगाकर दोनों को बचा लिया, जबकि उनका तीसरा साथी गंगा की लहरों में लापता हो गया। गोताखोरों की मदद से लापता छात्र की तलाश की जा रही है, पुलिस ने परिजनों को सूचना दी। छात्र के पिता के परिचित फतेहपुर बिंदकी एसडीएम ने पुलिस ने घटना की जानकारी ली है।

बस्ती के कलवारी थाना अंतर्गत बहादुरपुर गांव निवासी ओमप्रकाश कनौजिया का 21 वर्षीय पुत्र अनूप काकादेव में रहकर राष्ट्रीय पात्रता प्रवेश परीक्षा (नीट) की तैयारी कर रहा था और छपेड़ा पुलिया स्थित हॉस्टल में रह रहा था। पुलिस के मुताबिक दीपावली पर घर जाना था। इसपर मां के कहने पर वह गंगा जल लेने के लिए दोस्तों गोरखपुर के खोराबार निवासी संजय निषाद और देवरिया के रुद्रपुर निवासी आदर्श सोनकर के साथ सोमवार की सुबह गंगा बैराज पर गया था। बैराज पर अटल घाट पर जाकर तीनों नहाने लगे।

करीब साढ़े नौ बजे चौकीदार सरोज ने घाट का गेट बंद करने के लिए तीनों को आवाज दी लेकिन उन्होंने अनसुना कर दिया। इसी बीच अनूप गंगा जल लेने बढ़ा और गहराई में डूब गया। उसे बचाने की कोशिश में संजय व आदर्श भी डूबने लगे। शोर सुनकर चौकीदार ने डंडे की मदद से दोनों को बाहर खींच लिया। इस बीच अनूप गहरे पानी में समा गया। कोहना थाने का फोर्स पहुंचा और आधा दर्जन गोताखोरों को नदी में उतारकर अनूप की तलाश शुरू कराई। थाना प्रभारी प्रभुकांत ने बताया कि अनूप के मोबाइल से बस्ती परिजनों को सूचना दी गई। बिंदकी (फतेहपुर) के एसडीएम ने फोन करके जानकारी ली है, वह संभवत: अनूप के रिश्तेदार हैं।

Posted By: Abhishek

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप