कानपुर, जागरण संवाददाता। किदवई नगर डब्ल्यू-1 ब्लाक में आटो-पार्टस व्यापारी हर्षित शुक्ला से आनलाइन कंपनी के अधिकारी बन साइबर ठग ने रुपये रिफंड कराने का झांसा देकर लिंक भेज खाते से 143500 रुपये उड़ाए लिए। मोबाइल पर मैसेज आने पर व्यापारी ने किदवई नगर थाने में मुकदमा दर्ज कराया।

हर्षित के मुताबिक, उन्होंने आनलाइन कंपनी से कुछ सामान मंगवाया था। 30 जून को उनका आर्डर कैसिंल होने का मैसेज आया। जब उन्होंने उस पर दिए नंबर पर काल किया तो कंपनी के अधिकारी बता एक वयक्ति ने उन्हें उनके रुपये रिफंड होने का भरोसा दिलाया। इसके बाद आर्डर दोबारा से कराने के लिए मैसेज भेजा। जिसमें एक लिकं था। उसके कहने पर उन्होंने लिंक खोलकर बैंक का विवरण भरा। इसके तुंरत बाद उनके खाते से पांच बार में 143500 रुपये कट गए। थाना प्रभारी सुभाष चन्द्र ने बताया कि मामले में आइटी एक्ट में मुकदमा दर्ज कर जांच की जा रही है।

न मैसेज न काल और खाते से कट गए 60 हजार- बर्रा के जरौली फेस-1 निवासी अवध किशोर के मुताबिक,वह शुक्रवार को वह कर्रही स्थित एसबीआइ के एटीएम बूथ से रुपये निकालने पहुंचे तो रुपये नहीं निकले। जब बैलेंस जांचा तो खाते से 60 हजार रुपये पहले ही निकल चुके थे। जबकि एटीएम कार्ड भी उनके पास था। उनका आरोप है कि रुपये निकलने का न कोई मैसेज आया और न ही काल। मामले में बर्रा थाने में मुकदमा दर्ज कराया है। 

Edited By: Abhishek Verma