कानपुर, जेएनएन। महाराजपुर थाना क्षेत्र के हनिया गांव मेंं घरेलू कलह के चलते नवविवाहित दंपती ने फांसी लगाकर जान दे दी। शनिवार सुबह दोनों के शव पेड़ की एक ही डाल से लटके मिले। पुलिस व फॉरेंसिक टीम ने मौके पर पहुंचकर छानबीन की और साक्ष्य जुटाए।

लॉकडाउन में 17 मई को हुई थी शादी

महाराजपुर के हनिया निवासी किसान शिवनाथ पाल के 25 वर्षीय बेटे जीतू व उसकी पत्नी 22 वर्षीय अर्चना उर्फ रूमी का शव शनिवार सुबह गांव के बाहर मक्के के खेत में नीम के पेड़ से लटके मिले। जीतू रूमा औद्योगिक क्षेत्र स्थित एक फैक्ट्री में काम करता था और उसकी बीती 17 मई को ही साढ़ के असनिया निवासी रामबाबू पाल की बेटी अर्चना उर्फ रूमी से शादी हुई थी। सुबह शव लटके देख ग्रामीणों ने स्वजन को जानकारी दी। दंपती द्वारा आत्महत्या किए जाने की सूचना पर पहुंची महाराजपुर पुलिस ने छानबीन कर स्वजन के बयान दर्ज किए।

मायके में जेवरात चोरी होने से दोनों में हुआ था झगड़ा

थाना प्रभारी महाराजपुर राघवेंद्र सिंह ने बताया कि स्वजनों के मुताबिक 5 अगस्त को रक्षाबंधन पर जीतू पत्नी अर्चना को लेकर उसके मायके गया था। मायके में ही अर्चना के जेवरात चोरी हो गए थे, जिसके बाद से घर वापस लौटने पर जेवरात चोरी होने को लेकर दोनों के बीच दो-तीन दिन से लड़ाई-झगड़ा हो रहा था। घरेलू कलह के चलते दोनों तनाव में थे, जिसके चलते दोनों ने आत्महत्या कर ली। फॉरेंसिक टीम ने घटनास्थल का निरीक्षण कर साक्ष्य जुटाए। थाना प्रभारी ने बताया कि प्राथमिक जांच में घरेलू कलह के चलते आत्महत्या की बात सामने आई है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी। 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस